Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

कंज्यूमर अड्डा: अस्पतालों की मुनाफाखोरी, इलाज पर भारी!

प्रकाशित Wed, 07, 2018 पर 18:38  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सीरिंज और सुई का निर्माण करने वाली कंपनियों ने अस्पतालों पर मुनाफाखोरी से जुड़ा गंभीर आरोप लगाया है। कंपनियों का आरोप है कि जब उन्होंने सीरिंज और सुई पर मार्जिन को 75 फीसदी पर कैप कर दिया तो कई नामचीन अस्पतालों ने उनसे सामान खरीदना ही बंद कर दिया और उन कंपनियों से सामान खरीदने लगे जो 1200 फीसदी तक का मार्जिन दे रही हैं।


एआईएसएनएमए यानि ऑल इंडिया सीरिंज एंड नीडिल्स मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन का कहना है कि सीरिंज और सुई की मनमानी कीमत वसूली जा रही है। कुछ कंपनियों ने मार्जिन घटाने का फैसला लिया था। जिसके बाद 75 फीसदी मार्जिन वाली कंपनियों से सामान की खरीद नहीं की जा रही है। कीमत घटाने वाली कंपनियों का सामान नहीं बिक रहा है।


एनपीपीए का भी कहना है कि सीरिंज और सुई पर 214-1251 फीसदी तक मार्जिन लिया जा रहा है। सीरिंज की औसत कीमत सामान्य से 664 फीसदी ज्यादा और सुई की औसत कीमत सामान्य से 356 फीसदी ज्यादा है। बता दें कि एनपीपीए दवाओं की कीमत तय करने वाली संस्था है।