एचयूएलः मुनाफा 14.2% बढ़ा, आय 10.8% बढ़ी -

एचयूएलः मुनाफा 14.2% बढ़ा, आय 10.8% बढ़ी

प्रकाशित Mon, 14, 2018 पर 15:59  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में एचयूएल का मुनाफा 14.2 फीसदी बढ़कर 1,351 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में एचयूएल का मुनाफा 1,183 करोड़ रुपये रहा था। एचयूएल ने 12 रुपये प्रति शेयर के डिविडेंड का एलान किया है। वहीं, जनवरी-मार्च तिमाही में एचयूएल का घरेलू कारोबार में वॉल्यूम ग्रोथ 11 फीसदी रहा है। चौथी तिमाही में एचयूएल को 64 करोड़ रुपये का एकमुश्त घाटा हुआ है।


वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में एचयूएल की आय 10.8 फीसदी बढ़कर 9,097 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में एचयूएल की आय 8,213 करोड़ रुपये रही थी।


साल दर साल आधार पर चौथी तिमाही में एचयूएल का एबिटडा 1,651 करोड़ रुपये से बढ़कर 2,048 करोड़ रुपये रहा है। सालाना आधार पर चौथी तिमाही में एचयूएल का एबिटडा मार्जिन 20.1 फीसदी से बढ़कर 22.5 फीसदी रहा है।


वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में एचयूएल की होम केयर सेग्मेंट से होने वाली आय 3102  करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में एचयूएल की  होम केयर सेग्मेंट की आय 3004 करोड़ रुपये रही थी। तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में एचयूएल के होम केयर सेग्मेंट की एबिट 389 करोड़ रुपये से बढ़कर 509 करोड़ रुपये हो गई है।


वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में एचयूएल की पर्सनल केयर सेगमेंट से होने वाली आय 4096 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में एचयूएल की पर्सनल केयर सेग्मेंट की आय 4075 करोड़ रुपये रही थी। तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में एचयूएल के होम केयर सेग्मेंट की एबिट 984 करोड़ रुपये से बढ़कर 1066 करोड़ रुपये हो गई है।


वित्त वर्ष 2018 की चौथी तिमाही में एचयूएल की रिफ्रेसमेंट सेगमेंट से होने वाली आय 1409 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है। वित्त वर्ष 2017 की चौथी तिमाही में एचयूएल की रिफ्रेसमेंट सेगमेंट की आय 1300 करोड़ रुपये रही थी। तिमाही आधार पर चौथी तिमाही में एचयूएल के रिफ्रेसमेंट सेगमेंट की एबिट 219 करोड़ रुपये से बढ़कर 256 करोड़ रुपये हो गई है।