कंज्यूमर अड्डा: अच्छा क्रेडिट स्कोर दिलाएगा सस्ता लोन -
Moneycontrol » समाचार » स्टॉक व्यू

कंज्यूमर अड्डा: अच्छा क्रेडिट स्कोर दिलाएगा सस्ता लोन

प्रकाशित Thu, 17, 2018 पर 08:08  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कंज्यूमर अड्डा में बात हो रही है आपके फायदे की। आज लगभग सभी लोग लोन लेते हैं। इसका इससे कोई मतलब नहीं है कि आपके पास कितने पैसे हैं और आप कितना कमाते हैं। होम लोन, कार लोन, एजूकेशन लोन और पर्सनल लोन आज आम बात है। आप जानते हैं कि लोन लेने के लिए एक चीज बहुत अहम है और वो है क्रेडिट स्कोर। क्रेडिट स्कोर अच्छा हो तो लोन मिलनें में आसानी होती है। लेकिन बहुत कम लोग हैं जो क्रेडिट स्कोर को जानते समझते हैं। यहां हम आपको समझआ रहें हैं इसी क्रेडिट स्कोर का फंडा।


तो सबसे पहले बता दें कि क्रेडिट स्कोर बड़े काम का है। अपना क्रेडिट स्कोर अच्छा करें जिससे आपको बैंक से सस्ता लोन मिलेगा। लोन पर कम ईएमआई चुकानी पड़ेगी। कई बैंकों में ब्याज दर क्रेडिट स्कोर से तय होती है। अच्छे क्रेडिट स्कोर से फटाफट लोन मिलता है।


क्रेडिट स्कोर से पिछले कर्ज की जानकारी मिलती है। लोन, क्रेडिट कार्ड के लिए अच्छा क्रेडिट स्कोर जरूरी होता है। वक्त पर ईएमआई चुकाने से क्रेडिट स्कोर अच्छा रहता है। क्रेडिट स्कोर 300-900 प्वाइंट के बीच होता है। इसके 750 प्वाइंट या इससे ज्यादा रहने पर कर्ज मिलना आसान होता है। जितना अच्छा क्रेडिट स्कोर, उतनी आसानी से कर्ज मिलता है। क्रेडिट स्कोर में 24 महीने की क्रेडिट हिस्ट्री शामिल होती है।


क्रेडिट स्कोर सुधारने के लिए समय पर क्रेडिट कार्ड का भुगतान करें। लोन ईएमआई का समय पर भुगतान करें। 6 महीने तक समय पर कर्ज चुकाने से इसमें सुधार होता है। क्रेडिट कार्ड की पूरी लिमिट इस्तेमाल ना करें। क्रेडिट कार्ड से ज्यादा लोन ना लें। बहुत सारे लोन के लिए आवेदन ना करें। होम लोन, ऑटो लोन जैसे सिक्योर्ड लोन को अहमियत दें। पर्सनल लोन लेने से बचें। क्रेडिट कार्ड अकाउंट बंद करने से बचें। ज्वाइंट अकाउंट की समीक्षा करते रहें।


बाता दें कि अच्छा क्रेडिट स्कोर 750-900 के बीच माना जाता है। इसके 750 से ऊपर रहने पर आसानी से लोन मिलता है। 750 से कम स्कोर होने पर लोन मिलने में दिक्कत होती है। कम क्रेडिट स्कोर वाले को लोन देना बैंकों के लिए खतरे का सौदा होता है।


क्रेडिट स्कोर रिपोर्ट मंगवानें के लिए वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा। इसके लिए www.cibil.com पर जाकर फॉर्म डाउनलोड करें। पहली बार रिपोर्ट फ्री में मिलेगी। इसके लिए एक बार ऑथेंटिकेशन की प्रक्रिया होगी। ऑथेंटिकेशन के बाद क्रेडिट स्‍कोर मिलेगा। कुछ अन्य एजेंसियां भी क्रेडिट स्कोर देती हैं इनमें इक्विफैक्स, एक्सपीरियन, सीआरआईएफ हाई मार्क शामिल हैं।


एक्सपीरियन की कंट्री हेड वैशाली कस्तूरे का कहना है कि क्रेडिट स्कोर 300-900 प्वाइंट के बीच होता है। क्रेडिट स्कोर जानने के लिए www.experian.in पर जाकर लॉन्ग इन करें जहां आपको आपके क्रेडिट स्कोर की पूरी जानकारी मिलेगी। उन्होंने आगे कहा कि बैंकों का मानना है कि क्रेडिट स्कोर 750 प्वाइंट या इससे ज्यादा रहने पर कर्ज मिलना आसान होता है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि आपका क्रेडिट स्कोर 750 प्वाइंट से कम हो तो आपको लोन नहीं मिलेगा।