Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

डाटा लीक मामले में फिर फंसा फेसबुक, भारत ने मांगा जवाब

प्रकाशित Fri, 08, 2018 पर 18:25  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

फेसबुक ने फिर आपका डाटा लीक किया है। इस बार फेसबुक चीनी मोबाइल कंपनियों को डाटा दिया है। चीन की हुवावे, लिनेवो, ओप्पो, टीसीएल को डाटा दिया। फेसबुक ने इन चारों कंपनियों के साथ समझौता किया था। यूजर के बदले डाटा देने की डील हुई थी। अमेरिका में हुवावे का फोन बैन है। हुवावे पर अमेरिका में जांच चल रही है। 56 और कंपनियां को भी फेसबुक डाटा मिलता है।


फेसबुक के डाटा लीक का खुलासा न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट में हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक फेसबुक ने 60 कंपनियों को दिया डाटा दिया है। यूजर्स के साथ उनके दोस्तों का भी डाटा शेयर किया गया है। एप्पल, सैमसंग को भी डाटा एक्सेस दिया गया है, जिसमें चार चीनी मोबाइल कंपनियां भी इसमें शामिल है।


वहीं चीनी मोबाइल हैंडसेट कंपनियों से भारतीयों के डाटा शेयरिंग पर सरकार के तेवर कड़े हैं। आईटी मंत्रालय ने फेसबुक को नोटिस भेजा है। बता दें कि फेसबुक की चार चाइनीस हैंडसेट कंपनी के साथ डाटा शेयरिंग की खबर है। जस पर आईटी मंत्रालय ने फेसबुक से जवाब मांगा है। जवाब देने के लिए फेसबुक को 20 जून तक का वक्त दिया गया है।


बता दें कि इससे पहले भी फेसबुक पर भारतीय ग्राहकों का डाटा शेयर करने का आरोप लगा था। कैंब्रिज एनालिटिका मामले में फेसबुक फंसा था। कैंब्रिज एनालिटिका में नोटिस दिया था, जिसके बाद फेसबुक ने भारत से माफी मांगी थी। अब फेसबुक में 1.4 करोड़ यूजर्स की प्राइवेसी सेटिंग बदली गई है। यूजर पोस्ट पब्लिक कैटेगरी में पोस्ट हुए है, सिर्फ दोस्तों को भेजी गई पोस्ट पब्लिक हुई है। फेसबुक ने गड़बड़ी ठीक करने का दावा किया है।