Moneycontrol » समाचार » चर्चित स्टॉक खबरें

इन शेयरों में है जोरदार हलचल, क्या है वजह

प्रकाशित Mon, 02, 2018 पर 13:05  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बाजार में खबरों वाले शेयरों में जोरदार हलचल दिख रही है, आइए जानते हैं कौन हैं ये शेयर।


आईडीबीआई बैंक 
 
आईडीबीआई बैंक में आज जोरदार हलचल दिख रही है। 2 दिनों में इसमें 12 फीसदी से ज्यादा की तेजी आ चुकी है। इसकी वजह ये है कि आईआरडीए ने एलआईसी-आईडीबीआई बैंक डील को मंजूरी दे दी है। सरकार अब कैबिनेट में प्रस्ताव लाएगी और कैबिनेट की मंजूरी के बाद बोर्ड में चर्चा होगी। एलआईसी की आईडीबीआई बैंक में 51 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने की तैयारी है। आईडीबीआई बैंक में एलआईसी का मैनेजमेंट कंट्रोल नहीं होगा। वित्त वर्ष 2019 में आईडीबीआई बैंक को 8,000 करोड़ रुपये की पूंजी की जरूरत है।


बता दें कि आईडीबीआई बैंक में एलआईसी की पहले से ही 10.82 फीसदी हिस्सेदारी है। आईडीबीआई बैंक में निवेश के लिए एलआईसी करीब 12000 करोड़ रुपये खर्च करेगी। मार्च तिमाही में आईडीबीआई बैंक का नेट एनपीए 16.69 फीसदी रहा। आईडीबीआई बैंक का ग्रॉस एनपीए 28 फीसदी या 55588 करोड़ रुपये है। एलआईसी का पहले से निजी और सरकारी मिला कर 29 बैंकों में निवेश है। एलआईसी की एक्सिस बैंक में 14.26 फीसदी हिस्सेदारी है। आईडीबीआई बैंक में निवेश पर एलआईसी को नए शेयर जारी होंगे ये स्पष्ट नहीं है। एलआईसी अगर सरकार का हिस्सा खरीदेगी तो बैंक को कोई फायदा नहीं होगा।


टाटा स्टील


आज मेटल और माइनिंग शेयर हलचल मे है। साथ ही टाटा स्टील में फोकस में है। टाटा स्टील और थाइसेनकृप के बीच बड़ी डील को हरी झंडी मिल गई है। थाइसेनकृप के सुपरवाइजरी बोर्ड ने टाटा स्टील के साथ ज्वाइंट वेंचर को मंजूरी दे दी है। 2006 के बाद ये यूरोप की स्टील इंडस्ट्री की सबसे बड़ी डील है। दोनों कंपनियों के बीच 50-50 की ज्वाइंट वेंचर कंपनी बनेगी जिसका नाम होगा थाइसेनकृप टाटा स्टील। थाइसेनकृप इस ज्वाइंट वेंचर कंपनी का आईपीओ लाने का फैसला भी ले सकती है। जेवी कंपनी में करीब 48 हजार कर्मचारी होंगे और ये यूरोप की दूसरी सबसे बड़ी स्टील कंपनी होगी। टाटा स्टील पर सीएलएसए ने खरीद की राय दी है लेकिन लक्ष्य 920 रुपये से घटाकर 855 रुपये कर दिया है।


वैसे मेटल और माइनिंग शेयरों में आज दबाव देखने को मिल रहा है। चीन के पीएमआई के आंकड़े अनुमान से खराब रहे हैं, जून में पीएमआई 51.6 के मुकाबले 51.5 पर रहा है। इसका असर आज मेटल और माइनिंग शेयरों पर दिखा है।


बजाज ऑटो


आज बजार ऑटो का शेयर भी हलचल में है। कंपनी की कुल बिक्री 65 फीसदी बढ़ी है। वैसे जून में गाड़ियों की बिक्री अच्छी रही है। जिसके चलते बाजार में भी ऑटो कंपनियों के शेयरों में रफ्तार दिख रही है।