Moneycontrol » समाचार » राजनीति

टक्कर: 2019 से पहले विपक्ष पर मोदी वार

प्रकाशित Wed, 04, 2018 पर 08:47  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सीएनबीसी-आवाज़ पर डिबेट शो टक्कर में सोमवार से शुक्रवार रात 09:00 बजे आपसे जुड़े हुए मुद्दे उठाए जाते हैं और सरकार से पूछे जाते हैं तीखे सवाल। टीवी पर बहस तो बहुत होती रहती हैं लेकिन वहां तू-तू, मैं-मैं के बीच आपके मुद्दे दब जाते हैं और आपके हक की आवाज़ गुम हो जाती है। इसलिए टक्कर में उन चेहरों से सीधे सवाल किए जाते हैं जिनकी आपके प्रति सीधी जवाबदेही बनती है। टक्कर महज एक शो नहीं है ये 130 करोड़ भारतीयों की एक बड़ी मुहिम है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वराज्य मैगजीन को दिए इंटरव्यू में कांग्रेस सहित पूरे विपक्ष पर निशाना साधा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विपक्ष के पास मोदी हटाओ के अलावा कोई एजेंडा नहीं है। विपक्ष का महागठबंधन देशहित के लिए नहीं है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि पूरा विपक्ष निजी हित और अपना अस्तित्व बचाने की लड़ाई में जुटा हुआ है। गठबंधन का हर नेता प्रधानमंत्री बनना चाहता है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राहुल गांधी और ममता बनर्जी पर भी चुटकी ली। प्रधानमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी पीएम बनने को तैयार हैं, लेकिन ममता बनर्जी को राहुल के नाम पर ऐतराज है। ममता जी प्रधानमंत्री बनना चाहती हैं लेकिन लेफ्ट को दिक्कत है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पी चिदंबरम को आड़े हाथों लिया है। स्वराज्य मैगज़ीन को दिए इंटरव्यू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इकोनॉमिस्ट प्रधानमंत्री और सब कुछ जानने वाले वित्त मंत्री ने देश की अर्थव्यवस्था को बहुत ही खराब हालत में छोड़ा था, जिसे हमारी सरकार ने उबारा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि भारत अब दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती हुई बड़ी अर्थव्यवस्था है।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बगैर रोजगार के ग्रोथ की आलोचना को खारिज करते हुए कहा कि अगर राज्य दर राज्य अच्छी संख्या में नौकरियां पैदा हो रही हैं तो यह कैसे संभव है कि केंद्र बेरोजगारी पैदा कर सकता है? प्रधानमंत्री बैंकों की समस्या पर भी बोले, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बैंकों की दिक्कतों को 2014 में ही पहचान लिया गया और लोन देने में उन्हें राजनैतिक हस्तक्षेप से मुक्त किया गया है। दूसरी तरफ, सरकार इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्टी कोड लेकर आई ताकि डिफॉल्टर्स पर लगाम लगाई जा सके।