Moneycontrol » समाचार » म्यूचुअल फंड खबरें

एसआईपी से म्यूचुअल फंड में लौटी बहार

एसआईपी म्युचुअल फंड इंडस्ट्री के मुश्किल दिनों में काफी मददगार साबित हो रहे हैं।
अपडेटेड Apr 02, 2011 पर 12:41  |  स्रोत : Moneycontrol.com

2 अप्रैल 2011



सीएनबीसी आवाज़



सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान यानी एसआईपी म्युचुअल फंड इंडस्ट्री के मुश्किल दिनों में काफी मददगार साबित हो रहे हैं। साल 2011 की शुरुआत तो अच्छी हुई ही, आगे भी इसके अच्छे परफॉर्मेंस की उम्मीद की जा रही है।



म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री के लिए 2011 की शुरुआत काफी अच्छी रही है। जनवरी में इंडस्ट्री ने 8,000 करोड़ रुपये का इनफ्लो देखा, जो पिछले साल के औसत से दोगुना है। फरवरी में भी इंडस्ट्री को 7,000 करोड़ रुपये का नया निवेश मिला। जानकारों के मुताबिक इसमें सबसे बड़ा योगदान है सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान यानी एसआईपी का।



इंडस्ट्री रिपोर्ट के मुताबिक सिर्फ एसआईपी में 35 लाख से ज्यादा फोलियो हैं और हर महीने एसआईपी में करीब 40 लाख ट्रांजेक्शन होते हैं। इस तरह किसी फंड हाउस के कुल इक्विटी एसेट का करीब 20 फीसदी सिर्फ एसआईपी से आ रहा है।



एक और खास बात ये है कि एसआईपी के जरिए आ रहे पैसे का 90 फीसदी इक्विटी प्लान में, 6 फीसदी हाइब्रिड प्लान में और 4 फीसदी डेट प्लान में आ रहा है। इंडस्ट्री के जानकारों के मुताबिक एसआईपी में इस बढ़ोतरी के पीछे तीन वजहें हैं- पहला ये कि उतार-चढ़ाव वाले समय में भी एसआईपी ने बढ़िया रिटर्न दिया है। दूसरा एसआईपी के जरिए वैसे निवेशक भी आते हैं जिनके पास बहुत बड़ी रकम नहीं होती और तीसरी वजह ये है कि यूलिप को मिली बदनामी के बाद डिस्ट्रीब्यूटर्स एसआईपी को निवेश का सबसे अच्छा ऑप्शन बताकर बेच रहे हैं।



वीडियो देखें