Moneycontrol » समाचार » निवेश

म्यूचुअल फंड निवेश से जुड़ी जानकारी

प्रकाशित Sat, 23, 2011 पर 15:20  |  स्रोत : Moneycontrol.com

23 अप्रैल 2011

सीएनबीसी आवाज़



सेंटर फॉर इंवेस्टमेंट एजूकेशन एंड लर्निंग की मैनेजिंग डायरेक्टर उमा शशिकांत के मुताबिक म्यूचुअल फंड में हर साल एक जैसा रिटर्न आने की उम्मीद करना गलत है। म्यूचुअल फंड में रिटर्न इक्विटी पर आधारित होता हैं और इसमें उतार-चढ़ाव देखे जा सकते हैं।



उमा शशिकांत के मुताबिक सेक्टर फंड में रिटर्न उसी सूरत में करें जब आपको सेक्टर के बारे में कुछ फंडामेंटल जानकारी हो। फंड मैनेजर बाजार के आधार पर सेक्टर फंड के आगे के प्रदर्शन का ठीकठाक आकलन कर सकते हैं। सेक्टर फंड में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद नहीं होती है इसलिए निवेशकों को सोचसमझकर सेक्टोरियल फंड में निवेश की रणनीति अपनानी चाहिए।



उमा शशिकांत के मुताबिक नए निवेशकों को सेक्टोरियल फंड की बजाए डाइवर्सिफाइड फंड से निवेश की शुरुआत करनी चाहिए।



उमा शशिकांत के मुताबिक म्यूचुअल फंड में 1 साल से ज्यादा की निवेश अवधि पर टैक्स छूट मिल सकती है। मौजूदा स्थिति के मुताबिक लंबी अवधि के लिए म्यूचुअल फंड में निवेश से ही ज्यादा रिटर्न कमाने की उम्मीद हैं।



30 साल में 1 करोड़ रुपये का लक्ष्य



उमा शशिकांत के मुताबिक 12 फीसदी सालाना रिटर्न के अनुमान से 30 साल बाद 1 करोड़ रुपये का लक्ष्य हासिल किया जा सकता है। 30 साल में 1 करोड़ रुपये के रिटर्न के लिए 4000 रुपये की एसआईपी करनी होगी। इस लक्ष्य के लिए डीएसपी ब्लैकरॉक टॉप 100 फंड, एचडीएफसी टॉप 200 फंड, फिडेलिटी इक्विटी फंड या फ्रैंकलिन इंडिया ब्ल्यूचिप फंड में से किसी एक में 4000 रुपये की एसआईपी करें।

वीडियो देखें