Moneycontrol » समाचार » बाजार आउटलुक- फंडामेंटल

बजट के बाद शुरू करें शेयरों में खरीदारी

बाजार के जानकार सलाह दे रहे हैं कि बजट के बाद ही शेयरों में खरीदारी की रणनीति अपनाना सही होगा।
अपडेटेड Jan 09, 2012 पर 11:21  |  स्रोत : Moneycontrol.com

9 जनवरी 2012



सीएनबीसी आवाज़



बाजार में सुस्ती का माहौल बरकरार है। अंतर्राष्ट्रीय बाजारों से भी कोई अच्छे संकेत मिलते दिखाई नहीं दे रहे हैं। माना जा रहा है कि निवेशक बजट में सरकार की ओर से आर्थिक सुधारों को लेकर किसी ठोस घोषणा की उम्मीद में हैं। लिहाजा बाजार के जानकार भी सलाह दे रहे हैं कि बजट के बाद ही शेयरों में खरीदारी की रणनीति अपनाना सही होगा।



डायमेंशंस कंसल्टिंग के सीईओ अजय श्रीवास्तव का कहना है कि बजट तक बाजार में कोई बड़ी पोजीशन बनाने की सलाह नहीं है। फिलहाल बाजार में ज्यादा लॉन्ग पोजीशन से बचे रहना ही अच्छा है। निवेशकों को शेयरों में खरीदारी के लिए बजट तक का इंतजार करना चाहिए।



अजय श्रीवास्तव का मानना है कि बाजार में आनेवाले इंवेट के चलते छोटी अवधि के लिए कभी भी तेजी लौट सकती है। लेकिन बाजार में मौजूदा स्तरों से 10-20 फीसदी की गिरावट आ सकती है। मौजूदा समय में पीएसयू शेयरों में सावधानी के साथ निवेश करने की सलाह है। आईटी कंपनियों के नतीजे अच्छे रहेंगे ऐसे में आईटी शेयरों में निवेश किया जा सकता है।



अजय श्रीवास्तव के मुताबिक पैंटालून रिटेल में फंडामेंटल खरीदारी नहीं दिख रही है। सिर्फ आर्बिट्रेज के लिहाज से पोजीशन बनाई जा रही है। फार्मा शेयरों में मौजूदा स्तरों से ज्यादा गिरावट नहीं आएगी इसलिए निवेश किया जा सकता है। जेपी एसोसिएट्स में मौजूदा स्तरों से और गिरावट की आशंका है।



हेलियस कैपिटल के फंड मैनेजर समीर अरोड़ा का कहना है कि बजट से पहले बाजार में गिरावट के आसार हैं। हालांकि बजट में सरकार की ओर से आर्थिक सुधारों को लेकर कोई ठोस कदम उठाए जाने की संभावना कम है।



समीर अरोड़ा के मुताबिक एफडीआई में रिटेल आने से पैंटालून रिटेल को ज्यादा फायदा नहीं होगा। रिटेल में एफडीआई का असर लंबी अवधि में दिखेगा और छोटी अवधि में असर दिखना मुश्किल है। सरकार की आर्थिक सुधार की सुस्त चाल से पावर सेक्टर की ऋणदाता कंपनियां पीएफसी और आरईसी पर दबाव देखने को मिलेगा। फिलहाल विनिवेश की आशंकाओं के बीच पीएसयू शेयरों में उछाल देखने को मिल रही है।



वीडियो देखें