डीटीसी की राह पर ही आयकर दायरे में बदलाव

प्रणव मुखर्जी ने आयकर छूट की सीमा को 1.8 लाख रुपये से बढ़ाकर 2 लाख रुपये कर दिया है।
अपडेटेड Feb 29, 2012 पर 12:13  |  स्रोत : Moneycontrol.com

माना जा रहा था कि इस साल डायरेक्ट टैक्स कोड लागू हो जाएगा। डीटीसी के तहत कई प्रस्ताव हैं जिसका असर कामकाजी लोगों पर हो सकता है।


वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने बजट में डीटीसी लागू करने पर कोई ठोस ऐलान तो नहीं किया लेकिन डीटीसी की राह पर चलते हुए आयकर के दायरे में बदलाव किया है। प्रणव मुखर्जी ने आयकर छूट की सीमा को 1.8 लाख रुपये से बढ़ाकर 2 लाख रुपये कर दिया है। हालांकि माना जा रहा है कि बजट के तहत आयकर छूट की सीमा को बढ़ाकर 3 लाख रुपये तक किया जा सकता है।


वहीं वित्त मंत्री ने राजीव गांधी इक्विटी स्कीम में रिटेल निवेशकों को 50 फीसदी टैक्स छूट देने का ऐलान किया है। लेकिन सालाना 10 लाख रुपये से कम आय वाले लोग ही राजीव गांधी इक्विटी स्कीम में निवेश कर पाएंगे।