डीटीसी लागू करने की कोशिशें तेजः वित्त मंत्री

वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी डायरेक्ट टैक्स कोड को जल्द से जल्द अमल में लाना चाहते हैं।
अपडेटेड Mar 16, 2012 पर 19:06  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

डीटीसी में प्रस्तावित कुछ मुद्दों को बजट में पेश करने के बाद अब वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी डायरेक्ट टैक्स कोड को पूरी तरह से अमल में लाना चाहते हैं। वित्त मंत्री ने इसी साल में डीटीसी को अमल में लाने पर जोर दिया है।


प्रणव मुखर्जी का कहना है कि डीटीसी में प्रस्तावित आयकर की छूट के तहत ही टैक्स छूट का दायरा बढ़ाया गया है, ताकि डीटीसी लागू होने में आसानी होगी। वहीं डीटीसी के कुछ प्रस्तावों को इस बजट में शामिल किया गया है। संसदीय कमिटी ने डीटीसी पर अपनी रिपोर्ट सौंप दी है। डीटीसी पर संसदीय कमिटी की रिपोर्ट इसी साल 9 मार्च को मिली है। अगर ये रिपोर्ट 3 महीने पहले मेरे आई होती बजट में डीटीसी लागू कर दिया जाता।


प्रणव मुखर्जी का मानना है कि जीएसटी, डीटीसी लागू करने के लिए सभी पार्टियों की सहमति बेहद जरूरी है। लेकिन संवैधानिक संशोधनों के बिना जीएसटी को अमल में लाना मुमकिन नहीं है। यही वजह है कि जीएसटी लागू करने में देरी हो रही है।


वीडियो देखें