Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स के सवाल, टैक्स गुरू के जवाब

प्रकाशित Fri, 05, 2012 पर 12:37  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टैक्स गुरू सुभाष लखोटिया ने टैक्स से जुडे़ कुछ सवालों के जवाब दिए जो आपके भी बहुत काम आ सकते हैं।


सवालः मैं दुबई में रहता हूं और मेरी सैलरी भारत के अकाउंट में आती है। क्या इस पर भारत में टैक्स लगेगा?


सुभाष लखोटियाः 182 दिनों से ज्यादा देश से बाहर रहने पर एनआरआई स्टेटस बन जाता है। बतौर एनआरआई आप पर देश में टैक्स की देनदारी नहीं बनती है।


सवालः मेरे पास 2 घर हैं, 1 घर किराए पर है और दूसरे घर में खुद रहते हैं। 1 घर का लोन चुकाकर टैक्स छूट क्लेम कर रहे हैं, क्या एचआरए का फायदा मिलेगा?


सुभाष लखोटियाः आपके किराए के घर पर ब्याज से हुए लॉस का फायदा मिलेगा। और खुद के घर पर 80सी का फायदा मिलता रहेगा। एचआरए के फायदे के लिए किराए का घर लेना जरूरी है। अगर आपने एचआरए की मिली रकम से किराए की जगह ली है तो इस किराए की रसीद अपने नियोक्ता को देकर एचआरए का लाभ ले सकते हैं।


सवालः कंपनी का एडवांस टैक्स भरते समय कंपनी के पैन कार्ड की जगह अपना पैन कार्ड नंबर भर दिया. अब क्या करना चाहिए?


सुभाष लखोटियाः बैंक को पत्र लिखकर गलती सुधारने को कहें। अगर बैंक ना माने तो कंपनी के इनकम टैक्स ऑफिसर को पत्र लिखर इसकी जानकारी दें।


सवालः क्या पर्सनल लोन के पेमेंट पर 80सी के तहत टैक्स छूट क्लेम की जा सकती है?


सुभाष लखोटियाः पर्सनल लोन के पेमेंट पर टैक्स छूट नहीं मिल सकती है। आपको पर्सनल लोन के पेमेंट पर 80सी का फायदा नहीं मिल सकता है।


सवालः मेरा एक रेसिडेंशिल प्लॉट है और इसको बेचकर कमर्शियल प्रॉपर्टी खरीदी है, क्या इसपर टैक्स छूट का फायदा मिल सकता है?


सुभाष लखोटियाः आप सिर्फ तभी टैक्स बचा सकते हैं जह आप रेसिडेंशियल प्रॉपर्टी में दोबारा निवेश करें। क्योंकि आपने कमर्शियल प्रॉपर्टी में निवेश किया है इसलिए आपको टैक्स छूट नहीं मिल पाएगी। आपको प्रॉपर्टी की खरीद पर कैपिटल गेन टैक्स देना होगा।


सवालः सीनियर सिटीजन हैं और टीडीएस चुकाने के बाद करीब 40,000 रुपये टैक्स बनता है, एडवांस टैक्स की देनदारी कैसे होगी और कब तक इसे देना होगा?


सुभाष लखोटियाः अगर आप सीनियर सिटीजन हैं और आपकी बिजनेस से कोई आय नहीं है तो इस साल आपको कोई एडवांस टैक्स नहीं देना होगा। अगले साल 31 जुलाई 2013 तक रिटर्न भरते वक्त अपना टैक्स जमा करना होगा।


सवालः टैक्स रिफंड पर मिले ब्याज से संतुष्ट नहीं हैं, क्या करना चाहिए?


सुभाष लखोटियाः रिफंड लौटाने में देरी के लिए ब्याज मिलता है। ये ब्याज आयकर विभाग देता है। अगर आप मिलने वाले ब्याज से खुश नहीं हैं तो आयकर विभाग को लिखें।


सवालः पत्नी प्रॉपर्टी में निवेश कर रही हैं, पार्टनरशिप में खरीदी हुई प्रॉपर्टी से होने वाली आमदनी पर टैक्स कैसे देना होगा?


सुभाष लखोटियाः प्रॉपर्टी के मालिकाना हक के हिसाब से टैक्स देना होगा। प्रॉपर्टी की जितने फीसदी हिस्सेदारी आपके पास है उसी हिसाब से टैक्स की देनदारी बनेगी। दोनों मालिकों को अपनी प्रॉपर्टी पर अलग अलग टैक्स देना होगा।


सवालः 27 जुलाई 2012 को ई-रिटर्न फाइल किया, उसी दिन आईटीआर-5 स्पीड पोस्ट के जरिए बंगलुरू भेजा जो अभी तक नहीं पहुंचा। क्या करना चाहिए?


सुभाष लखोटियाः आपको आईटीआर 5 को दोबारा बंगलुरू भेजना पड़ेगा। आयकर विभाग को गायब हुए आईटीआर 5 की जानकारी दें। जब भी आप ई रिटर्न भरें तो डिजिटल सिग्नेचर का इस्तेमाल करें। आईटीआर 5 पोस्ट के जरिए भेजने से बचना चाहिए।


सवालः 10 लाख रुपये गुजारा भत्ता मिला है। पूरी रकम बैंक एफडी में डाली है, क्या एफडी पर मिलने वाले ब्याज पर टैक्सदेना होगा?


सुभाष लखोटियाः एफडी से मिलने वाले ब्याज पर टैक्स छूट नहीं मिल सकती है। आपको इस पर मिलने वाले ब्याज पर टैक्स देना होगा।


वीडियो देखें