Moneycontrol » समाचार » म्यूचुअल फंड खबरें

एमएफ निवेश के लिए दोबारा होगा केवाईसी

अगर म्यूचुअल फंड के लिए जनवरी 2012 से पहले केवाईसी करवाया है तो आपको दोबारा केवाईसी करवाना होगा।
अपडेटेड Nov 29, 2012 पर 14:52  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अगर आपने म्यूचुअल फंड के लिए केवाईसी जनवरी 2012 से पहले करवाया है तो आपको दोबारा केवाईसी करवाना होगा नहीं तो आप 1 दिसंबर से नए म्यूचुअल फंड में निवेश नहीं कर पाएंगे।


म्यूचुअल फंड के केवाईसी के लिए 1 दिसंबर आखिरी तारीख
तय की गई है। इसके तहत 2012 के पहले किए गए केवाईसी को दोबारा करवाना होगा। नए केवाईसी में इन पर्सन वैरिफिकेशन भी जरूरी होगा। 2012 से पहले केवाईसी में इन-पर्सन वैरिफिकेशन जरूरी नहीं था।


1 जनरी से पहले केवाईसी करा चुके निवेशक दोबारा केवाईसी नहीं करवाने पर नया निवेश नहीं कर पाएंगे। हालांकि उनकी पुरानी एसआईपी पहले की तरह जारी रहेंगी।


केवाईसी के तहत नेटवर्थ, इनकम की भी जानकारी देनी होगी और पत्नी/पिता का नाम देना होगा। केवाईसी के तहत वैवाहिक स्थिति की जानकारी भी देनी होगी।


नए केवाईसी के लिए म्यूचुअल फंड कंपनियां ग्राहकों को नया फार्म भेज रहीं हैं। निवेशकों को फार्म में मांगी गई जानकारी भरकर इन्वेस्टर सर्विस सेंटर में देना होगा। साथ ही केवाईसी फार्म म्यूचुअल फंड डिस्ट्रीब्यूटर को भी दिया जा सकता है।