Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स गुरूः 2013 में बचाएं टैक्स, कमाएं फायदा

नए साल में टैक्स गुरु आपको 13 टिप्स बता रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप भी कमा सकते हैं फायदा।
अपडेटेड Jan 05, 2013 पर 13:24  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

2013 की शुरुआत हो चुकी है। नए साल में टैक्स गुरु आपको टैक्स बचाने और निवेश करने से जुड़े 13 टिप्स बता रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप भी कमा सकते हैं फायदा।


1. परिवार के हर सदस्य के नाम में इन्कम टैक्स फाइल तैयार करें। अपनी पत्नी की इन्कम टैक्स फाइल बनाएं। इसके तहत क्लबिंग ऑफ इन्कम का ध्यान रखें। 3 लोग पत्नी को उपहार नहीं दे सकते हैं जैसे पति, सास और ससुर। इनके द्वारा गिफ्ट देने से होने वाली इन्कम गिफ्ट देने वाले की आय में जुडे़गी। हालांकि लोन कोई भी दे सकता है। अपने बालिग बच्चों के लिए भी एक इन्कम टैक्स फाइल जरूर बनाएं। आईटी फाइल बनाने से परिवार का हर सदस्य 2 लाख रुपये तक की इन्कम टैक्स छूट ले सकते हैं।


2. एचयूएफ यानि हिंदू अनडिवाइडेड फैमिली की इकाई अगर आपके यहां नहीं है तो इसे 2013 में शुरु कर लें। एचयूएफ टैक्स प्लानिंग का अच्छा विकल्प है। एचयूएफ के लिए जरूरी नहीं है कि आपके संतान हों। एचयूएफ को इंडीविजुएल का तरह टैक्स छूट मिलती है। इसके तहत 2 लाख रुपये तक की आय करमुक्त है। साथ ही सेक्शन 80सी के तहत 1 लाख रुपये तक के निवेश पर टैक्स छूट ले सकते हैं। साथ ही होमलोन के ब्याज पर 1.5 लाख रुपये तक की छूट ले सकते हैं।


3. 2013 में परिवार के हर सदस्य का बीमा जरूर कराएं। परिवार के सभी सदस्यों की सुरक्षा के लिए बीमा पॉलिसी लें। इसके नए कानून के हिसाब से सम एश्योर्ड के 10 फीसदी रकम का प्रीमियम 1 साल में ना दें। इससे ज्यादा के प्रीमियम पर टैक्स छूट नहीं मिलेगी।


4. बचत खाते में पैसे डाल कर रखें। बचत खाते में ब्याज बढ़ गया है। वित्त वर्ष 2012-13 से बचत बैंक खाता, को ऑपरेटिव सोसायटी और पोस्ट ऑफिस ब्याज पर छूट बढ़ गई है। इसमें आयकर की धारा 80टीटीए के तहत 10,000 रुपये तक के ब्याज पर छूट मिलेगी। छूट सभी व्यक्ति और एचयूएफ के लिए है। बैंक खातों में इतनी रकम रखें कि इसका ब्याज 10,000 रुपये तक पहुंच जाए और आप टैक्स छूट ले सकें।


5. 2013 में भी पीपीएफ यानि पब्लिक प्रॉविडेंट फंड में निवेश करें। पीपीएफ में निवेश पर 8.8 फीसदी ब्याज मिलता है। साथ ही इसके ब्याज की पूरी रकम पर टैक्स छूट मिलती है। पत्नी, बच्चों के नाम पर पीपीएफ खाता खोलें। पीपीएफ में निवेश की कुल सीमा 1 लाख रुपये है। 


6. आयकर कानून में नए बदलाव के तहत धारा 80सीसीजी के तहत टैक्स छूट मिलेगी। नए निवेशकों के लिए टैक्स की स्कीम राजीव गांधी इक्विटी स्कीम लागू की गई है जिसके तहत शेयर बाजार में 50,000 रुपये तक के निवेश पर टैक्स छूट मिलेगी। इस निवेश पर 50 फीसदी तक की छूट मिलेगी। निवेश 3 साल के लिए रखना जरुरी होगा। साथ ही ध्यान रखने वाली बात है कि आय सालाना 10 लाख रुपये से ज्यादा ना हो।


7. 2013 में पोस्ट ऑफिस बचत स्कीम में निवेश करना अच्छा है। एनएसई 8,9, टाइम डिपॉजिट, सीनियर सिटीजन बचत स्कीम में निवेश करना अच्छा विकल्प रहेगा। इनमें निवेश करने से आयकर की धारा 80सी के तहत टैक्स छूट मिलेगी। साथ ही इन निवेश स्कीम पर अच्छा ब्याज मिल रहा है। 


8. 2013 में जो लोग ज्यादा खर्चीले हैं या बचत करना चाहते हैं और बचत होती नहीं है उनके लिए 10 साल के जीरो कूपन बॉन्ड में निवेश करना अच्छा विकल्प है। इसमें हर साल नियमित राशि नहीं मिलती है बल्कि 10वें साल में मैच्योरिटी पर पैसा मिलता है। इसमें कॉस्ट इंफ्लेश इंडेक्स के तहत मैच्योरिटी पर टैक्स नहीं लगता है। बच्चों के लिए निवेश करने का अच्छा जरिया है। इसमें निवेश करने पर टैक्स नहीं लगता है।


9. 2013 में टैक्स फ्री बॉन्ड में निवेश करें। इसमें कितनी ही आय वाला वर्ग हो उसके टैक्स फ्री बॉन्ड में निवेश के ब्याज पर टैक्स नहीं लगेगा। आपकी सालाना आय 10 लाख रुपये से ज्यादा हो ते निवेश जरूर करें।


10. न्यू पेंशन स्कीम (एनपीएस) में निवेश करें। परिवार के सदस्यों का एनपीएस अकाउंट खोलें। एनपीएस निवेश का अच्छा विकल्प है। 60 साल से कम उम्र के आयु के लोग एनपीएस अकाउंट खुलवा सकते हैं। ज्यादतर बड़े बैंकों में एनपीएस अकाउंट खोले जाते हैं। बैंक में संपर्क कर पूरी जानकारी लें।


11. 2013 में नाबालिग बच्चों के लिए स्पेसफिक बेनेफिशयरी ट्रस्ट बनाएं। ट्रस्ट की रकम नाबालिग बच्चे पर खर्च ना हो तो क्लबिंग ऑफ इंकम नहीं होगा। साथ ही बच्चे के नाम पर पीपीएफ, एलआईसी में निवेश करें।


12. 2013 में प्रॉपर्टी में निवेश अच्छा विकल्प है। अगर आप घर के लिए लोन लेते हैं तो सेक्शन 24 के तहत लोन के ब्याज पर 1.50 लाख रुपये तक की टैक्स छूट ले सकते हैं। लोन रीपेमेंट पर सेक्शन 80सी के तहत 1 लाख रुपये की छूट हासिल कर सकते हैं। बेहतर होगा कि 2 व्यक्तियों के नाम पर घर लिया जाए ताकि हरेक व्यक्ति को 1.50 लाख रुपये के ब्याज की छूट मिल जाए। दोनों व्यक्ति को टैक्स छूट का फायदा मिलेगा। हालांकि जमीन खरीदने पर टैक्स छूट का फायदा नहीं मिलेगा। 


13. 2013 में गहनों के बजाए सिक्के या गोल्ड ईटीएफ में निवेश बेहतर रहेगा। ईटीएफ में निवेश से वेल्थ टैक्स नहीं लगेगा क्योंकि ये म्यूचुअल फंड के अंतर्गत आते हैं। लंबे समय के लिए गोल्ड ईटीएफ में एसआईपी के जरिए निवेश अच्छा रहेगा।


वीडियो देखें