Moneycontrol » समाचार » म्यूचुअल फंड खबरें

सेबी ने एएसबीए नियमन को 1 अक्टूबर तक टाला

सेबी ने म्युचुअल फंडों के लिए एएसबीए के नियमन को लागू करने की तिथि को आगे बढ़ा दिया है।
अपडेटेड Aug 04, 2010 पर 15:35  |  स्रोत : Hindi.in.com

04 अगस्त 2010



सीएनबीसी-टीवी 18



भारतीय प्रतिभूति एवं विनियम बोर्ड (सेबी) ने म्युचुअल फंडों के लिए अवरुद्ध राशि के समर्थित आवेदन (एएसबीए) के नियमन को लागू करने की तिथि को आगे बढ़ा दिया है।



निवेशक अब इस सुविधा का लाभ न्यू फंड ऑफर (एनएफओ) में 1 अक्टूबर तक उठा सकते हैं, जबकि पहले इसे 1 जुलाई से लागू करना था।



कैसे मदद करेगा यह?



एएसबीए के तहत आवेदक उसकी बोली को बैंक के खाते में राशि रहते हुए भी लगा सकता है और कोई भी इस राशि का उपयोग नहीं कर सकता है। जब शेयरों का आवंटन होगा तभी इस राशि का भुगतान होगा।



इस पहल से रिफंड में होने वाली देरी को रोकने में सहायक होगा, इसप्रकार प्रक्रिया भी तेज होगी।



प्रमाणित वित्तिय योजनाकार सुरेश सदगोपन का मानना है कि यह एक अच्छा कदम उठाया गया है। निवेशक पहले से ही भुगतान इस फायदे के लिए करता है कि जो फंड फंसे हुए हैं उससे उन्हें ब्याज हासिल होगा, ऐसा पहले नहीं था।



रिटेल आवेदकों के लिए यह सुविधा उपलब्ध थी जिसे अप्रैल में संस्थागत निवेशकों के लिए भी लागू कर दी गया।