Moneycontrol » समाचार » म्यूचुअल फंड खबरें

म्युचुअल फंड डिस्ट्रीब्यूटर बनना सस्ता हुआ

एम्फी ने म्युचुअल फंड डिस्ट्रीब्यूटरों पर लगने वाली रजिस्ट्रेशन फीस को पूरी तरह माफ करने का फैसला किया है।
अपडेटेड Jan 18, 2013 पर 08:19  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

म्युचुअल फंड डिस्ट्रीब्यूटर बनना सस्ता हो गया है। म्युचुअल फंड्स की एसोसिएशन एम्फी ने एमएफ डिस्ट्रीब्यूटरों पर लगने वाली रजिस्ट्रेशन फीस को पूरी तरह माफ करने का फैसला किया है। इससे म्युचुअल फंड सेक्टर में एक लाख डिस्ट्रीब्यूटरों को मौके मिलने की संभावना हैं।


म्युचुअल फंड में बिक्री बढ़ाने के लिए एसोसिएशन ऑफ म्युचुअल फंड इन इंडिया यानि कि एम्फी ने नया कदम उठाया है।


एम्फी ने डिस्ट्रीब्यूटरों के रजिस्ट्रेशन पर लगने वाली 3000 रुपये की रजिस्ट्रेशन फीस नहीं लेने का फैसला किया है। 1 फरवरी से 30 जून तक रजिस्टर होने वाले डिस्ट्रीब्यूटरों पर ये रजिस्ट्रेशन फीस नहीं लगेगी। एम्फी के मुताबिक इस कदम से 1 लाख नए डिस्ट्रीब्यूटर जुड़ने की संभावना है।


लेकिन डिस्ट्रीब्यूटर बनने के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ सिक्योरिटीज मार्केट यानि कि एनआईएसएम की परीक्षा पास करना जरूरी होगा। अगर आप 5 साल से इंश्योरेंस, पीपीएफ और एफडी बेच रहे हैं तो आप सीधे स्पेशल कैटेगरी में डिस्ट्रीब्यूटर बन सकते हैं। साथ ही 5 साल के अनुभव वाले बैकिंग करसपोंडेंट भी म्युचुअल फंड डिस्ट्रीब्यूटर बन सकते हैं।


जानकारों के मुताबिक कम बिक्री से परेशान म्युचुअल फंड इंडस्ट्री के लिए ये कदम अच्छा साबित हो सकता है। तो अगर आप भी फाइनेंशियल मार्केट में हाथ आजमाना चाहते हैं तो आपके लिए म्युचुअल फंड इंडस्ट्री में आने का ये बहुत अच्छा मौका है।


वीडियो देखें