Moneycontrol » समाचार » चर्चित स्टॉक खबरें

आज के चर्चित स्टॉक्स

कौन से हैं वो शेयर जिन पर होगी आज बाजार की नजर।
अपडेटेड Feb 01, 2013 पर 08:59  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कौन से हैं वो शेयर जिन पर होगी आज बाजार की नजर।


जेट एयरवेज
कंपनी आज एतिहाद के साथ डील का ऐलान कर सकती है। एतिहाद जेट एयरवेज में करीब 24 फीसदी हिस्सेदारी खरीद सकती है।
 
एमआरपीएल
वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में एमआरपीएल का राजस्व 37 फीसदी बढ़कर 18,760 करोड़ रुपये रहा। जबकि वित्त वर्ष 2012 की तीसरी तिमाही में कंपनी का राजस्व 13,650 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में एमआरपीएल को 360 करोड़ रुपये का घाटा हुआ है। जबकि वित्त वर्ष 2012 की तीसरी तिमाही में कंपनी ने 110 करोड़ रुपये का मुनाफा दिखाया था।


इसके अलावा वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में एमआरपीएल का फॉरेक्स घाटा साल दर साल आधार पर 440 करोड़ रुपये से घटकर 257 करोड़ रुपये रहा। 


आईजीएल
सुप्रीम कोर्ट पीएनजीआरबी, आईजीएल की आज सुनवाई करेगा।


हीरो मोटोकॉर्प
गुडगांव कर्मचारियों-मैनेजमेंट के बीच वेतन बढ़ाने को लेकर गतिरोध जारी रहा। सूत्रों के मुताबिक अब शनिवार को मैनेजमेंट और कर्मचारियों की बैठक होगी।  


थर्मेक्स
वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में थर्मेक्स की बिक्री 17.5 फीसदी घटकर 1,047 करोड़ रुपये रही। जबकि वित्त वर्ष 2012 की तीसरी तिमाही में कंपनी की बिक्री 1269 करोड़ रुपये रही थी।


वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में थर्मेक्स का मुनाफा 20 फीसदी घटकर 76 करोड़ रुपये रहा। जबकि वित्त वर्ष 2012 की तीसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 95 करोड़ रुपये रहा था।


रिलायंस कम्युनिकेशंस
कंपनी को अगले 12-18 महीने में 2-3 बार ट्रैरिफ बढ़ाने की उम्मीद है। इसके अलावा कंपनी ने सीडीएमए और जीएसएम मोबाइल्स सप्लाई करने के लिए चायना की लेनोवो ग्रुप के साथ करार किया है। 


स्कूटर्स इंडिया
कल कैबिनेट ने कंपनी में 90.38 करोड़ रुपये का फंड जुटाने की मंजूरी दी।    


ओएनजीसी
कैबिनेट ने ओएनजीसी विदेश की अजेरबैजन ऑयल एसेट खरीदने को मंजूरी दी।

ट्रेंट
वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में ट्रेंट का मुनाफा 50 फीसदी बढ़कर 21 करोड़ रुपये रहा। जबकि वित्त वर्ष 2012 की तीसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 14 करोड़ रुपये रहा था। 


वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में ट्रेंट की बिक्री 12.74 फीसदी बढ़कर 245 करोड़ रुपये रही। जबकि वित्त वर्ष 2012 की तीसरी तिमाही में कंपनी की बिक्री 217.3 करोड़ रुपये रही थी।


जीटीएल इंफ्रा
वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में जीटीएल इंफ्रा की आय 4.55 फीसदी बढ़कर 142.2 करोड़ रुपये रही। जबकि वित्त वर्ष 2012 की तीसरी तिमाही में कंपनी की आय 136 करोड़ रुपये रही थी।


इसके अलावा वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में जीटीएल इंफ्रा का घाटा साल दर साल आधार पर 1.4 करोड़ रुपये से बढ़कर 85.5 करोड़ रुपये रहा। 


पंजाब एंड सिंध बैंक
वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में पंजाब एंड सिंध बैंक का मुनाफा 19.54 फीसदी घटकर 73.7 करोड़ रुपये रहा। जबकि वित्त वर्ष 2012 की तीसरी तिमाही में बैंक का मुनाफा 91.6 करोड़ रुपये रहा था। 


वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में पंजाब एंड सिंध बैंक की ब्याज आय 17.03 फीसदी बढ़कर 439 करोड़ रुपये रही। जबकि वित्त वर्ष 2012 की तीसरी तिमाही में बैंक की ब्याज आय 375.1 करोड़ रुपये रही थी।


वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में पंजाब एंड सिंध बैंक का ग्रोस एनपीए 2.17 फीसदी से बढ़कर 2.55 फीसदी रहा। वहीं तिमाही दर तिमाही आधार पर बैंक का नेट एनपीए 1.58 फीसदी से बढ़कर 1.86 फीसदी रहा।


वित्त वर्ष 2013 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में पंजाब एंड सिंध बैंक का प्रोविजन 127.16 फीसदी बढ़कर 147.2 करोड़ रुपये रहा। पिछले साल की तीसरी तिमाही में बैंक का प्रोविजन 64.8 करोड़ रुपये रहा था। इसके अलावा तिमाही दर तिमाही आधार पर बैंक का कैपिटल एडीक्वेट रेशियो 12.75 फीसदी से घटकर 12.2 फीसदी रहा।

जागरण प्रकाशन
वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में जागरण प्रकाशन का मुनाफा
5.04 फीसदी घटकर 65.9 करोड़ रुपये रहा। जबकि वित्त वर्ष 2012 की तीसरी तिमाही में कंपनी का मुनाफा 69.4 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में जागरण प्रकाशन का राजस्व 8.38 फीसदी बढ़कर 349 करोड़ रुपये रहा। जबकि वित्त वर्ष 2012 की तीसरी तिमाही में कंपनी का राजस्व 322 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2013 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में जागरण प्रकाशन का विज्ञापन राजस्व 7.07 फीसदी से बढ़कर 239.3 करोड़ रुपये रहा। वहीं सर्कुलेशन राजस्व 12.22 फीसदी से बढ़कर 69.89 करोड़ रुपये रहा। इसके अलावा डिजिटल राजस्व 18 फीसदी से बढ़कर 2.88 करोड़ रुपये रहा।

औध शुगर
वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में औध शुगर का घाटा साल दर साल आधार पर 22.7 करोड़ रुपये से कम होकर 2.7 करोड़ रुपये रहा।


वित्त वर्ष 2013 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में औध शुगर की बिक्री 56.63 फीसदी बढ़कर 288.2 करोड़ रुपये रही। पिछले साल की तीसरी तिमाही में कंपनी की बिक्री 184 करोड़ रुपये रही थी।


महिंद्रा फोर्जिंग्स
वित्त वर्ष 2013 की तीसरी तिमाही में महिंद्रा फोर्जिंग्स का मुनाफा 5 गुना बढ़कर 11 करोड़ रुपये रहा। पिछले साल अक्टूबर-दिसंबर में कंपनी का मुनाफा 2.2 करोड़ रुपये रहा था।


वित्त वर्ष 2013 की अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में महिंद्रा फोर्जिंग्स की बिक्री 1.70 फीसदी घटकर 98 करोड़ रुपये रही। पिछले साल की तीसरी तिमाही में कंपनी की बिक्री 99.7 करोड़ रुपये रही थी।

वीडियो देखें