Moneycontrol » समाचार » म्यूचुअल फंड खबरें

राजीव गांधी इक्विटी सेविंग्स स्कीम ने पकड़ा जोर

राजीव गांधी इक्विटी सेविंग्स स्कीम ने अब जोर पकड़ लिया है।
अपडेटेड Feb 11, 2013 पर 13:28  |  स्रोत : Moneycontrol.com

राजीव गांधी इक्विटी सेविंग्स स्कीम ने अब जोर पकड़ लिया है। आज यूटीआई म्यूचुअल फंड और एलआईसी नोमुरा म्यूचुअल फंड के राजीव गांधी इक्विटी सेविंग्स स्कीम के न्यू फंड ऑफर (एनएफओ) बाजार में खुल गए हैं। इससे पहले फंड बाजार में डीएसपी ब्लैकरॉक म्यूचुअल फंड का आरजीईएसएस स्कीम बाजार में पहले से खुला हुआ है।


इनके बाद जल्द दर्जन भर दूसरी म्यूचुअल फंड कंपनियां भी अपने फंड जल्द बाजार में लॉन्च करने के तैयार हैं। एसबीआई और आईडीबीआई भी जल्द राजीव गांधी इक्विटी सेविंग्स स्कीम फंड लॉन्च करने वाले हैं।


राजीव गांधी इक्विटी सेविंग्स स्कीम के दायरे में 50,000 रुपये तक का निवेश आएगा। निवेश की गई रकम के 50 फीसदी पर टैक्स छूट मिलेगी। ये निवेश शेयर बाजार में सीधे या म्यूचुअल फंड के जरिए होना चाहिए। फिलहाल ये छूट शेयर बाजार में पहली बार निवेश करने वाले को मिलेगी। शर्त ये है कि उसकी सालाना आय 10 लाख रुपये से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।


राजीव गांधी इक्विटी सेविंग्स स्कीम में निवेश की गई रकम का 3 साल के लिए लॉक इन पीरियड रहेगा। इसका मतलब ये कि 3 साल से पहले पैसे निकालने पर आपको टैक्स में छूट का फायदा नहीं मिलेगा। राजीव गांधी इक्विटी सेविंग्स स्कीम के जरिए ईटीएफ, म्यूचुअल फंड, बीएसई और एनएसई की 100 सबसे बड़ी कंपनियों में होगा। यही नहीं सरकारी कंपनियों के शेयरों में पैसा लगाने पर भी इसका फायदा मिलेगा।