Moneycontrol » समाचार » म्यूचुअल फंड विश्लेषण

म्युचूअल फंड से जुड़े सवालों के जवाब

आईफास्ट फाइनेंशियल के डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर नेल्सन डिसूजा से जानिए म्युचूअल फंड से जुड़े सवालों के जवाब -
अपडेटेड Mar 21, 2013 पर 15:46  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आईफास्ट फाइनेंशियल के डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर नेल्सन डिसूजा से जानिए म्युचूअल फंड से जुड़े सवालों के जवाब -


सवाल : मेरी उम्र 31 साल है और मेरी मासिक बचत 10,000-13,000 रुपये होती है। मैं हर महीने पीपीएफ 1500 रुपये, रिलायंस ग्रोथ में 1000 रुपये, एलआईसी जीवन सरल में 1000 रुपये और आरडी में 3000 रुपये निवेश करता हूं।


15 साल में बच्चे की पढ़ाई के लिए 20 लाख रुपये, 60 साल की उम्र के बाद हर महीने 30,000 रुपये और 4-6 साल में क्लीनिक शुरू करने के लिए 10 लाख रुपये का मेरा लक्ष्य है। मैं और 15,000 रुपये का निवेश कर सकता हूं। कहां करू?
 
नेल्सन डिसूजा : आपको 15 साल में 20 लाख रुपये के लिए हर महीने 4,825 रुपये का निवेश करना होगा। इतने लंबे निवेश के लिए आप मिडकैप फंड्स चुन सकते हैं। रिलायंस ग्रोथ फंड में हर महीने आपका 1000 रुपये का निवेश पहले से ही है। साथ ही आप हर महीने 3800 रुपये का निवेश आईडीएफसी स्टर्लिंग में शुरू करें।


रिटायरमेंट के लिए आपको अपना पोर्टफोलियो तैयार करना चाहिए, पॉलिसी ना लें। रिटायरमेंट के लिए आपको 72 लाख रुपये की जरूरत होगी और इस 72 लाख रुपये के लिए आपको हर महीने 3,538 रुपये का निवेश करना होगा। आप आईसीआईसीआई प्रू फोकस्ड ब्लूचिप, यूटीआई अपॉर्च्यूनिटीज, एचडीएफसी मिडकैप ऑपर्च्यूनिटीज, आईडीएफसी स्टर्लिंग और बिड़ला डायनमिक बॉंन्ड इन फंड्स में निवेश कर सकते हैं। क्लिनिक शुरु करने के लिए आप बैंकर्स से लोन के लिए बात करें कौन-से कमर्शियल लोन मौजूद है इसकी जानकारी लें।


सवाल : म्युचूअल फंड मिस-सेलिंग पर सेबी ने जो नया सर्कुलर जारी किया है क्या उससे मिस-सेलिंग पर लगाम लग सकता है?


नेल्सन डिसूजा : म्युचूअल फंड मिस-सेलिंग पर लगाम लगाने के लिए सेबी ने नया सर्कुलर जारी किया है। इससे मिस-सेलिंग खत्म होगी ये कहना मुश्किल है लेकिन सतर्कता बढ़ जाएगी। सभी म्युचूअल फंड अपनी स्कीमों की लेबलिंग करेंगे। इक्विटी में जोभी फंड्स आते है इनमें भूरा रंग कलर कोडिंग के लिए आएगा और बैलेंस फंड के लिए पीला और हरा फिस्क्ड और डेट फंड के लिए आएगा। कंपनी के वेबसाइट्स पर भी आपको कलर कोडिंग दिखेगा जिससे आपको खरीदारी में दिक्कत नहीं होगी। आपको कलर कोड के जरिए फंड का नेचर, लक्ष्य और जोखिम की जानकारी मिल जाएगी।        


वीडियो देखें