Moneycontrol » समाचार » प्रॉपर्टी

प्रॉपर्टी से जुड़े कानूनी सवालों के जवाब

प्रकाशित Sat, 08, 2013 पर 11:44  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

प्रॉपर्टी की सभी जरूरी जानकारियों के अलावा हम इस शो में देंगे, आपकी प्रॉपर्टी से जुड़े इन्वेस्टमेंट और लीगल सवालों के जवाब, साथ ही आपको बताएंगे प्रॉपर्टी बाजार का ताजा हाल। आइए जानते है जेएलएल के नेशनल डायरेक्टर, मोहम्मद असलम और लीगल एक्सपर्ट विनय सिंग की सलाह।


सवाल : बंगलुरू में 3बीएचके फ्लैट में निवेश किया है, उसे बेचकर 35 लाख रुपये में रेडी पजेशन फ्लैट विशाखापट्टनम में लेने की सोच रहा हूं, क्या ऐसा करना ठीक होगा?


मोहम्मद असलम : बंगलुरू में डीएलएफ के प्रोजेक्ट में निवेश अच्छा साबित होगा। किराए से इनकम कमाना काफी जरूरी ना हो तो आप बंगलुरू के निवेश में बने रहें। बंगलुरू, डीएलएफ का निवेश भविष्य में बढ़िया रिटर्न देगा। बंगलुरू में विशाखापट्टनम के मुकाबले ज्यादा किराया कमाया जा सकता है।


सवाल : 28-30 लाख रुपये के बजट में मुंबई के पास कर्जत में निवेश करना चाहिए या पुणे में निवेश करना ज्यादा फायदेमंद रहेगा?


मोहम्मद असलम : अगर कर्जत में सेकेंड होम में रहने के लिए निवेश करना हो, तो जरूर करें। लेकिन किराए पर देने के उद्देश्य से निवेश करना हो तो फायदेमंद नहीं होगा। आप 28-30 लाख रुपये के बजट में पुणे के बाहरी इलाके में निवेश कर सकते हैं। आपको तलेगांव, वाघोली जैसे इलाके में 2बीएचके मिल सकता है। रिटर्न कमाने के लिहाज से पुणे का निवेश फायदेमंद साबित होगा।


सवाल : 2 करोड़ रुपये के बजट में दक्षिण मुंबई में 2 बीएचके/3 बीएचके फ्लैट के लिए क्या विकल्प हैं?


मोहम्मद असलम : दक्षिण मुंबई में निवेश के लिए 2 करोड़ का बजट काफी कम है। 2 बीएचके फ्लैट की कीमत कम से कम 6 करोड़ रुपये है। आपको कोलाबा की तरफ पुरानी बिल्डिंग में 1 बीएचके फ्लैट मिल सकता है। इसके अलावा दादर, माटुंगा, प्रभादेवी इलाके में आपको 2 बीएचके फ्लैट रिसेल में मिल सकता है।


सवाल : 40 लाख रुपये के बजट में पुणे में फुरसुंगी में निवेश करें या वाघोली में? फुरसुंगी मार्केट और आईटी ऑफिस के पास होते हुए भी यहां का रियल एस्टेट मार्केट वाघोली के मुकाबले ठंडा है, क्यों ?


मोहम्मद असलम : फुरसुंगी पुणे- सोलापुर रोड पर है और वाघोली पुणे- अहमदनगर रोड पर है। दोनों इलाकों में डेवलपमेंट शुरू हुआ है। फुरसुंगी के मुकाबले वाघोली में तेजी से डेवलपमेंट हो रहा है और वाघोली की तरफ बढ़िया इंफ्रास्ट्रक्चर है। फुरसुंगी के करीब सिर्फ एसपी इंफोसिटी है। आप 40 लाख रुपये के बजट में वाघोली में निवेश कर सकते हैं। अगर थोड़ा और बजट बढ़ाएंगे तो आप बेहतर निवेश कर सकते हैं।


सवाल : प्रॉपर्टी एग्जिबिशन में पता चला कि किसान ना होते हुए भी मैं राजस्थान में खेती की जमीन खरीद सकता हूं, जमीन खरीदने के बाद मुझे 70 हजार रुपये देकर किसान होने का सर्टिफिकेट मिलेगा, क्या ये कानूनी है? राजस्थान के एग्रीकल्चरिस्ट सर्टिफिकेट से महाराष्ट्र में खेती की जमीन खरीद सकता हूं?


विनय सिंह : महाराष्ट्र में खेती की जमीन खरीदने के लिए किसान होना जरूरी है। राजस्थान में खेती की जमीन खरीदने के बाद महाराष्ट्र में किसान होने का प्रमाण पत्र देकर कृषि जमीन खरीदना गलत होगा। राज्य सरकार इस पर कार्रवाई कर सकती है।


सवाल : अगस्त 2012 में प्री-लॉन्च प्रोजेक्ट में फ्लैट बुक किया। अब सुपर बिल्ट अप एरिया बढ़ा दिया गया है, जिसके लिए बिल्डर ज्यादा पैसे मांग रहा है, क्या ये बुकिंग रद्द करने पर मुझे ब्याज समेत मेरे पैसे वापस मिल सकते हैं?


विनय सिंह : आप प्री-लॉन्च प्रोजेक्ट में निवेश से बचें। प्री- लॉन्च में प्रोजेक्ट प्लान को मंजूरी नहीं मिली होती है, इसलिए बिल्डर प्री-लॉन्च में एग्रीमेंट नहीं बनाते। एग्रीमेंट और रजिस्ट्रेशन ना होने के कारण बिल्डर किसी भी तरह के बदलाव या प्रोजेक्ट रद्द कर सकता है। प्री-लॉन्च प्रोजेक्ट में दिक्कतें आ सकती हैं। एरिया बढ़ाकर दिया है, ये साबित कर सकते हैं तो आप कंज्यूमर कोर्ट में केस करें।

सवाल :
मेरी सहेली मुंबई में ग्राम पंचायत की सीमा में आने वाले प्रोजेक्ट में निवेश करना चाहती है। इन प्रोजेक्ट में बिल्डर ओसी नहीं देते, यहां निवेश करते वक्त क्या सावधानी बरतें?


विनय सिंह : इस तरह की प्रॉपर्टी में निवेश करने से पहले आप ग्राम पंचायत में प्लान की मंजूरी की जांच करें। ओसी ना मिलने का मतलब कंस्ट्रक्शन गैरकानूनी हो सकता है। इसलिए इस तरह के प्रोजेक्ट में निवेश से बचें।


सवाल : हमारा घर पिताजी ने बनवाया है। उनके बाद घर मां के नाम होगा और उसके बाद तीन भाइयों के नाम होगा, ऐसी वसीयत पिताजी ने बनाई है। वसीयत रजिस्टर्ड नहीं है। बड़े भाई का भी देहांत हो चुका है। मेरा भाई उसका 50 फीसदीहिस्सा मुझे देना चाहता है। क्या पत्नी के नाम पर गिफ्ट डीड कराना बेहतर होगा? क्या बड़े भाई का बेटा उसका हक मांग सकता है? क्या हमारी बहनें प्रॉपर्टी में हिस्सा मांग सकती हैं?


विनय सिंह : वसीयत के मुताबिक आपकी मां को घर में सिर्फ रहने का हक मिला है। इसलिए मां प्रॉपर्टी ट्रांसफर नहीं कर सकती है। तीनों भाइयों के पास प्रॉपर्टी की बराबर हिस्सेदारी है तो बड़े भाई का वारिस प्रॉपर्टी में हक मांग सकता है। अगर बड़े भाई का परिवार संपर्क में ना हो तो आप कोर्ट में वसीयत का प्रोबेट मांग सकते हैं। बड़े भाई के हिस्से का फैसला आप कोर्ट के आदेश के मुताबिक करें। वसीयत में बहनों का जिक्र ना हो तो वो प्रॉपर्टी पर दांवा नहीं कर सकती है।


सवाल : बंगलुरू में मेरा घर है जिसमें मेरा और मेरी भाभी का बराबर का हिस्सा है। लेकिन वो मुझे मेरा हिस्सा नहीं दे रहीं, क्या करें?


विनय सिंह : आप आपसी बातचीत से मामला सुलझाने की कोशिश करें या कोर्ट में प्रॉपर्टी के बंटवारे के लिए मामला दायर करें।


विनय सिंह : मेरी बिल्डिंग रिडेवलपमेंट के लिए जा रही है, मेरा एक फ्लैट और एक गैराज है जिसका मेंटनेंस मैं भरता हूं, क्या रिडेवलपमेंट के बाद मुझे गैराज का एरिया भी मिलेगा? काम खत्म होने तक क्या गैराज का किराया भी मिल सकता है ?


सवाल : रिडेवलपमेंट में गैराज का मुआवजा मिलेगा। आप गैराज के किराए की मांग भी कर सकते हैं। लेकिन गैराज के बदले नई बिल्डिंग में गैराज ही मिलेगा। डेवलपर से बातचीत करके गैराज के एरिया के पैसे भी ले सकते हैं।


वीडियो देखें