Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

किन शेयरों पर एफआईआई कर रहे हैं भरोसा

जनवरी-मार्च के दौरान एफआईआई ने 38,000 करोड़ रुपये से भी ज्यादा का निवेश बाजार में किया है।
अपडेटेड Jun 10, 2013 पर 12:36  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

बाजार में हाल-फिलहाल कम्रजोरी हावी हुई है लेकिन पूरे साल की बात करें तो इस साल विदेशी संस्थागत निवेशकों(एफआईआई) को भरोसा बना हुआ है। साल की पहली तिमाही यानि जनवरी-मार्च के दौरान एफआईआई ने 38,000 करोड़ रुपये से भी ज्यादा का निवेश बाजार में किया है। ये पिछली तिमाही से थोड़ा बहुत नहीं बल्कि 31 फीसदी ज्यादा है।


कुछ कंपनियां तो ऐसी हैं जिनमें एफआईआई की हिस्सेदारी में जोरदार उछाल आया है। आखिर इन कंपनियों पर भरोसे की क्या है वजह और इनके शेयरों में निवेशकों को क्या रणनीति होनी चाहिए। बता रहे हैं जियोजित बीएनपी पारिबा के गौरांग शाह
 
और आर के ग्लोबल के वाइस प्रेसिडेंट राकेश बंसल।


जियोजित बीएनपी पारिबा के गौरांग शाह की सलाह-


एक्सिस बैंक


एक्सिस बैंक में निवेश किया जा सकता है। निजी बैंको में एक्सिस बैंक के शेयर का सबसे बेहतर प्रदर्शन देखा गया है। वहीं आनेवाले समय में ब्याज दरों में कटौती होती है तो इससे बैंकों को फायदा पहुंचेगा। अगले 12-18 महीनों में एक्सिस बैंक के शेयर में 1,650-1,660 रुपये के स्तर देखे जा सकते हैं।


जयप्रकाश पावर वेंचर्स


जयप्रकाश पावर वेंचर्स में फिलहाल निवेश से बचना चाहिए। शेयर में निवेश के लिए 2-3 तिमाही का इंतजार करना उचित होगा। उसके बाद कंपनी का प्रदर्शन देखकर ही निवेश की रणनीति बनाना चाहिए।


उत्तम गालवा स्टील


स्टील सेक्टर का प्रदर्शन पिछले कुथ समय से काफी निराशाजनक रहा है। उत्तम गालवा स्टील में सपाट कारोबार ही देखा जा रहा है। ऐसे में फिलहाल शेयर में निवेश की रणनीति नहीं बनाना चाहिए।


मद्रास सीमेंट


सीमेंट सेक्टर पर नजारिया काफी सकारात्मक है। रियल्टी सेक्टर में मंदी से सीमेंट कंपनियों को कुछ दबाव झेलना पड़ा था। लेकिन वाले समय में सीमेंट शेयरों का प्रदर्शन बेहतर होता दिखाई देगा। हालांकि दक्षिण भारत की सीमेंट कंपनियों को कीमतों को लेकर काफी दबाव रहता है। ऐसे में ज्यादा जोखिम उठाने वाले निवेशकों को ही मद्रास सीमेंट पर दांव लगाना चाहिए।


मन्नापुरम फाइनेंस


गोल्ड फाइनेंस कंपनियों, एनबीएपसी में निवेश से दूर रहना ही उचित होगा। वहीं सोने के आयात पर सरकार की सख्ती का असर भी इन कंपनियों पर देखने को मिलेगा। ऐसे में मन्नापुरम फाइनेंस में निवेश से बचना चाहिए।


जयश्री टी


जयश्री टी में फिलहाल निवेश नहीं करना चाहिए। निवेश के लिहाज से टाटा ग्लोबल ब्रूवरीज ज्यादा बेहतर लग रहा है।


सेरा सेनिटीवेयर


सेनिटीवेयर में प्रतिस्पर्धा काफी देखी जा रही है। ऐसे में सेरा सेनिटीवेयर में फिलहाल निवेश नहीं करना चाहिए।


आर के ग्लोबल के वाइस प्रेसिडेंट राकेश बंसल-


श्रेनुज एंड कंपनी


श्रेनुज एंड कंपनी का शेयर चार्ट पर सकारात्मक संकेत दिखा रहा है। शेयर में गिरावट पर 87-90 रुपये के दायरे में खरीदारी की जा सकती है। ऊपरी स्तरों पर शेयर में 135-140 रुपये तक के स्तर देखे जा सकते हैं।


स्ट्राइड्स आर्कोलैब


स्ट्राइड्स आर्कोलैब में छोटी अवधि के लिए ट्रेडिंग के अवसर दिखाई दे रहे हैं। शेयर यदि 915 रुपये के ऊपर जाता है तो इसमें 900 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ खरीदारी की जास सकती है। आनेवाले कारोबारी सत्रों में शेयर में 980 रुपये तक के स्तर देखे जा सकते हैं।


ऑयल इंडिया


ऑयल इंडिया में मौजूदा स्तरों पर खरीदारी नहीं करना चाहिए। हालांकि शेयर में निचले स्तरों पर 500-510 रुपये के स्तर मिलते हैं तो खरीदारी की रणनीति बनाई जा सकती है।


टेक महिंद्रा


टेक महिंद्रा में छोटी अवधि के लिए खरीदारी की जा सकती है। स्टॉपलॉस 910 रुपये का रखें, ऊपरी स्तरों पर शेयर में 1,010 रुपये के स्तर देखे जा सकते हैं।


इंडियाबुल्स रियल एस्टेट


इंडियाबुल्स रियल एस्टेट का शेयर एक सीमित दायरे में कारोबार करता दिखाई दे रहा है। ऐसे में छोटी अवधि के नजरिए से शेयर से दूरी बनाना उचित होगा। हालांकि शेयर यदि 83 रुपये का स्तर पार करता है तो इसमें 74 रुपये के स्टॉपलॉस के साथ 120 रुपये तक के स्तर के लिए खरीदारी की जा सकती है।


वीडियो देखें