Moneycontrol » समाचार » म्यूचुअल फंड विश्लेषण

आईसीआईसीआई प्रू फोक्स्ड ब्लूचिप - लंबी रेस का घोड़ा

अर्णव पांड्या के मुताबिक ये फंड उन निवेशकों के लिए है, जो लंबी अवधि के लिए लार्जकैप में पैसा लगाना चाहते हैं।
अपडेटेड Jun 15, 2013 पर 14:13  |  स्रोत : Moneycontrol.com

आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल फोक्स्ड ब्लूचिप इक्विटी फंड, ओपन एंडेड फंड है जिसमें 20 लार्ज कैप कंपनियों में ज्यादातर निवेश किया जाता है। बाकी पूंजी डेट और मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स में लगाई जाती है। इस फंड ने कंसिस्टंट रिटर्न दिए हैं और बेंचमार्क को आउटपरफॉर्म किया है। फाइनेंशियल एडवाइजर अर्णव पांड्या के मुताबिक ये फंड उन निवेशकों के लिए सही है, जो लंबी अवधि के लिए लार्जकैप में पैसा लगाना चाहते हैं।


वर्ग - इक्विटी ओरियंडटेड ओपन एंडेड लार्जकैप फंड


आरंभ - मई 2008


एसेट अंडर मैनेजमेंट - मार्च 2013 के अंत में 4330 करोड़ रुपये


फंड मैनेजर - मनीष गुनवाणी


विश्लेषण


आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल फोक्स्ड ब्लूचिप इक्विटी फंड का फोकस लार्जकैप कंपनियों में निवेश के जरिए रिटर्न कमाना है। मई 2011 के अंत में फंड का सबसे ज्यादा एक्सपोजर बैंक सेक्टर में था। पोर्टफोलियो का 21 फीसदी बैंक सेक्टर में लगाया गया था। सॉफ्टवेयर और ऑटो में पोर्टफोलियो का बड़ा हिस्सा निवेश किया गया था। आईटीसी में सबसे ज्यादा पैसा लगाया गया था, वहीं बजाज ऑटो दूसरे नंबर पर था। बैंक शेयरों में एक्सिस बैंक, पीएनबी और बैंक ऑफ बड़ौदा शामिल थे। पोर्टफोलियो टर्नओवर रेश्यो 0.43 गुना रहा था। फंड का बेंचमार्क सीएनएक्स निफ्टी था और फंड ने बेंचमार्क को 1,3 और 5 साल की अवधि में आउटपरफॉर्म किया था।


6 महीने के बाद, फंड के पोर्टफोलियो में शॉर्ट-टर्म डेट और करंट एसेट बढ़कर करीब 10 फीसदी हो गए थे। बैंक 19 फीसदी के निवेश के साथ टॉप सेक्टर था। सॉफ्टवेयर, पेट्रोलियम प्रोडक्ट्स और फार्मा सेक्टर में भी बड़ा निवेश किया गया था। रिलायंस इंडस्ट्रीज और इंफोसिस में सबसे ज्यादा निवेश किया गया था। बजाज ऑटो, सिप्ला, आईटीसी, विप्रो, बैंक ऑफ बड़ौदा, एक्सिस बैंक और भारती एयरटेल भी पोर्टफोलियो में शामिल थे। सितंबर 2011 को खत्म होने वाली 1 साल और 3 साल की अवधि में फंड आउटपरफॉर्मर रहा था।


मई 2012 के अंत तक फंड के पोर्टफोलियो में बदलाव नहीं हुआ था। बैंक, सॉफ्टवेयर, कंज्यूमर नॉन-ड्यूरेबल्स और ऑटो सेक्टर पोर्टफोलियो में शामिल थे। इंफोसिस, एचडीएफसी बैंक और आईटीसी में 7-7 फीसदी से ज्यादा का निवेश किया गया था। रिलायंस इंडस्ट्रीज, बजाज ऑटो, विप्रो, आईसीआईसीआई बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक में भी काफी निवेश किया गया था। मार्च 2012 को खत्म होने वाली 1 साल और 3 साल की अवधि में फंड आउटपरफॉर्मर रहा था।


6 महीने के बाद बैंक सेक्टर में पोर्टफोलियो में हिस्सा 26 फीसदी से ज्यादा हो गया। सॉफ्टवेयर, कंज्यूमर नॉन-ड्यूरेबल्स और ऑटो सेक्टर में पोर्टफोलियो का बड़ा हिस्सा लगाया गया था। पोर्टफोलियो में शॉर्ट-टर्म डेट और करंट एसेट का करीब 7 फीसदी हिस्सा था। एचडीएफसी बैंक में सबसे ज्यादा निवेश किया गया था और आईटीसी दूसरे नंबर पर था। भारती एयरटेल, इंफोसिस, आईसीआईसीआई बैंक, बजाज ऑटो, कोटक महिंद्रा बैंक में भी बड़ा निवेश किया गया था। पोर्टफोलियो टर्नओवर रेश्यो बढ़कर 0.9 गुना हो गया था। सितंबर 2012 को खत्म होने वाली 1 साल और 3 साल की अवधि में फंड आउटपरफॉर्मर रहा था।


अप्रैल 2013 के अंत तक फंड के पोर्टफोलियो का ज्यादातर हिस्सा बैंक सेक्टर में ही निवेशित था। बैंक सेक्टर में पोर्टफोलियो का 26 फीसदी लगाया गया था। सॉफ्टवेयर, कंज्यूमर नॉन-ड्यूरेबल्स और ऑटो सेक्टर में भी बड़ा हिस्सा लगाया गया था। एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और कोटक महिंद्रा बैंक में सबसे ज्यादा निवेश किया गया था। आईटीसी, मदरसन सूमी, इंफोसिस और एसबीआई में भी पैसा लगाया गया था। पोर्टफोलियो टर्नओवर रेश्यो 0.8 फीसदी के करीब था। मार्च 2013 को खत्म 1 साल और 3 साल की अवधि में फंड आउटपरफॉर्मर रहा था।


आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल फोक्स्ड ब्लूचिप इक्विटी फंड कंसिस्टंट परफॉर्मर रहा है और लार्जकैप में एक्सपोजर रखने वाले निवेशकों के लिए बेहतर है। जो निवेशक लंबी अवधि के लिए निवेश करना चाहते हैं और कम से कम 3 साल के लिए बने रहेंगे, उनके लिए ये फंड अच्छा है।