Moneycontrol » समाचार » टैक्स

टैक्स गुरु से जानें कैसे भरें इनकम टैक्स रिटर्न

टैक्स गुरू रिटर्न भरने के लिए कुछ न कुछ टिप्स देते आ रहे हैं ताकि आपके तरफ से रिटर्न भरने में कोई चूक न हो।
अपडेटेड Jul 22, 2013 पर 09:52  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

इनकम टैक्स रिटर्न भरने की आखिरी तारीख के लिए मुश्किल से हफ्ता भर रह गया है। टैक्स गुरू रिटर्न भरने के लिए कुछ न कुछ टिप्स देते आ रहे हैं ताकि आपके तरफ से रिटर्न भरने में कोई चूक न हो।


टैक्स का भुगतान करने के लिए आईटी विभाग के चालान में नाम, एसेसमेंट इयर लिखें और सेल्फ असेसमेंट के कॉलम को टिक करें। एसेसमेंट इयर और सेल्फ असेसमेंट के कॉलम को टिक करें और एएन सही से लिखें। बैंक जाकर कैश या चेक से भुगतान करें। रसीद की एक कॉपी अपने पास जरूर रखें। रसीद की डिटेल्स रिटर्न फॉर्म में लिखें।


इस बार 5 लाख रुपये तक सैलरी वालों को भी इनकम टैक्स रिटर्न भरना होगा। पिछले 2 सालों से 5 लाख रुपये से कम आय वालों के लिए आईटी रिटर्न भरना जरूरी नहीं था। लेकिन सेंट्रेल बोर्ड ऑफ डायरेक्ट टैक्सेस (सीबीडीटी) ने कहा है कि ये छूट सिर्फ 2 साल के लिए थी। असेसमेंट ईयर 2013-14 में 5 लाख रुपये से कम सैलरी वालों के लिए भी रिटर्न दाखिल करना जरूरी होगा। हालांकि, 5 लाख रुपये से कम आय वालों के लिए ई रिटर्न भरना जरूरी नहीं होगा।


साथ ही 5 लाख रुपये से ज्यादा आय वालों के लिए ई-रिटर्न भरते वक्त बेहतर होगा कि डिजिटल सिग्नेचर बना लें। अगर डिजिटल सिग्नेचर नहीं है तो इसे जल्द से जल्द लें। ई-रिटर्न फाइल कर, वेरिफिकेशन फॉर्म आईटीआर 5 बंगलुरू भेज सकते हैं। डिजिटल सिग्नेचर के साथ ई-रिटर्न नहीं भरा तो करदाता आईटीआर-5 फॉर्म भरें। 120 दिन के अंदर भरे हुए आईटीआर-5 फॉर्म को सीपीसी-बंगलुरू भेज दें।


वीडियो देखें