Moneycontrol » समाचार » टैक्स

आसान तरीकों से बचाएं अपना टैक्स

टैक्स गुरु सुभाष लखोटिया से जानेंगे टैक्स बचाने के कुछ ऐसे गुरु मंत्र जिससे आप वक्त से पहले अपना टैक्स बचा सकते हैं।
अपडेटेड Sep 21, 2013 पर 17:00  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टैक्स गुरु सुभाष लखोटिया से जानेंगे टैक्स बचाने के कुछ ऐसे गुरु मंत्र जिससे आप वक्त से पहले अपना टैक्स बचाकर हासिल कर सकते किस्मत से ज्यादा।


सवाल : जो करदाता कंस्ट्रक्शन लिंक्ड पेमेंट के तहत प्रॉपर्टी खरीदते है उनके लिए टैक्स के नियम किस तरह से लागू होते हैं?


सुभाष लखोटिया : कंस्ट्रक्शन लिंक्ड रेसिडेंशियल हाउस प्रॉपर्टी पर टैक्स नियमों को ध्यान में रखना जरूरी है। लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स के लिए प्रॉपर्टी में निवेश के बाद उसे कम से कम 36 महीने तक रखना चाहिए। 36 महीने से कम समय तक प्रॉपर्टी में निवेश के बाद हुआ फायदा शॉर्ट टर्म कैपिटल गेन्स कहलाएगा।

कैपिटल गेन पर कॉस्ट इंफ्लेशन इंडेक्स का फायदा भी मिलेगा। किस्तों में भुगतान करने पर हर किस्त पर अलग कैपिटल गेन लगेगा। कंस्ट्रक्शन लिंक्ड पेमेंट की स्थिति में प्रॉपर्टी बेचने पर एलटीसीजी और एसटीजीसी दोनों होने की संभावना है।


सवाल : पीएफ पर टैक्स की देनदारी कैसे बनती है?


सुभाष लखोटिया : 5 साल से पहले नौकरी छोड़ते हैं और पीएफ के पैसे निकालते हैं तो निकाले गए पैसों पर टैक्स लगेगा। पीएफ अकाउंट से पैसे निकालने से बेहतर है कि इसे दूसरी कंपनी के अकाउंट में ट्रांसफर करें। 


सवाल : मैं एक एनआरआई हूं, भारत में एक जमीन कुछ साल पहले खरीदी थी जिस पर अब एक गोदाम बनाना चाहती हूं, जानना चाहती हूं कि क्या इसे लीज पर दूं या किराए पर? लीज या किराए से मिली रकम पर टैक्स कैसे लगेगा? अगर टैक्स लगेगा तो उसे कैसे बचाएं? 


सुभाष लखोटिया : अच्छा होगा कि आप जमीन पर गोदाम बनाएं और उसे किराए पर दें। किराए से हुई सालाना आय पर आप 30 फीसदी तक की छूट पा सकते हैं। गोदाम बनाने के लिए लोन लेने पर उसके ब्याज की रकम पर भी टैक्स छूट मिलेगी।


सवाल : मैं एक वरिष्ट नागरिक हूं। मुझे ब्याज से करीब 10 लाख रुपये सालाना इनकम मिलती है, क्या मुझे एडवांस टैक्स देना होगा और क्या मुझे टीडीएस से छूट मिलेगी, क्या फॉर्म 15एच बैंक में जमा कर दूं ताकि टीडीएस न कटें? 


सुभाष लखोटिया : सभी वरिष्ट नागरिकों को एडवांस टैक्स देने की जरूरत नहीं है। लेकिन वरिष्ट नागरिकों का टीडीएस जरूर कट होता है। अगर ब्याज की इनकम 10 लाख रुपये है तो फॉर्म 15एच बैंक में जमा करने के बावजूद टीडीएस कटेगा। 


वीडियो देखें