Moneycontrol » समाचार » म्यूचुअल फंड खबरें

अर्थवेद अल्फा एल50: निवेश का नया विकल्प

अर्थवेद अल्फा एल50 अल्ट्रा लार्जकैप शेयरों में वैल्यू इन्वेस्टिंग की स्ट्रैटेजी है।
अपडेटेड Oct 18, 2013 पर 15:57  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

अर्थवेद अल्फा एल50 अल्ट्रा लार्जकैप शेयरों में वैल्यू इन्वेस्टिंग की स्ट्रैटेजी है। इसमें निफ्टी के सभी 50 शेयर अलग-अलग वेटेज के साथ मौजूद हैं। इसमें निफ्टी के मुकाबले कम जोखिम के साथ ज्यादा रिटर्न मिलता है।


साथ ही इसके फंडामेंटल निफ्टी 50 के मुकाबले बेहतर हैं। अर्थवेद अल्फा एल50 सबसे ज्यादा लिक्विडिटी वाले 50 शेयर शामिल हैं। इसका औसत पोर्टफोलियो टर्नओवर 20 फीसदी के आसपास है। इस पर लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन लगता है और इनकम टैक्स नहीं लगता है।


एवीएफएम के एक्जिक्यूटिव प्रेसिडेंट विकास गुप्ता का कहना है कि बाजार में लंबी अवधि में 18 से 20 फीसदी के रिटर्न मिलते हैं। बाजार में लंबी अवधि में अच्छा रिटर्न मिल सकता है। म्यूचुअल फंड में भी लगातार बाजार से अच्छा रिटर्न दे पाना मुश्किल होता है। इसी के चलते अर्थवेद अल्फा एल50 लॉन्च किया गया है जिसमें बाजार के सामान्य रिटर्न से 4-5 फीसदी ज्यादा रिटर्न मिल सकते हैं।


माइनिंग, नैचुरल रिसोर्सेज, पीएसयू कंपनियों के वैल्यूएशन कम चल रहे हैं और ये शेयर सस्ते में मिल रहे हैं। इनमें खरीदारी करनी चाहिए। एफएमसीजी में ज्यादातर शेयर के वैल्यूएशन काफी महंगे हैं लेकिन ये शेयर सुरक्षित माने जाते हैं। वैश्विक बाजारों में अगर कोई बुरी खबर आती है तो एफएमसीजी, फार्मा जैसे सेक्टर सुरक्षित माने जाते हैं।


वीडियो देखें