Moneycontrol » समाचार » बाज़ार खबरें

टेलीकॉम के विलय-अधिग्रहण नियम मंजूर

टेलीकॉम सेक्टर में अब कंपनियों के विलय और अधिग्रहण का रास्ता साफ हो गया है।
अपडेटेड Dec 04, 2013 पर 08:17  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

टेलीकॉम सेक्टर में अब कंपनियों के विलय और अधिग्रहण का रास्ता साफ हो गया है। ईजीओएम ने विलय और अधिग्रहण के नियमों को फाइनल कर लिया है। इसके मुताबिक अब विलय के बाद बनी कंपनी का मार्केट शेयर 50 फीसदी तक रह सकता है पहले ये 35 फीसदी था। इसके बड़ी टेलीकॉम कंपनियों के लिए छोटी कंपनियों को खरीदना आसान हो जाएगा।


विलय के बाद बनी कंपनी के पास 4.4 मेगाहर्ट्ज से कम स्पेक्ट्रम होगा तो उसे कुछ भी पैसा नहीं देना होगा। जबकि इससे ऊपर के स्पेक्ट्रम के लिए बाजार भाव देना होगा। दूरसंचार विभाग के इन नियमों पर अभी कैबिनेट को मुहर लगाना है। इसके अलावा सूत्रों से ये भी पता चला है कि  अगली स्पेक्ट्रम नीलामी में 403 मेगाहर्ट्ज के 2जी स्पेक्ट्रम की नीलामी होगी।


टेलीकॉम मंत्री कपिल सिब्बल का कहना है कि ईजीओएम की बैठक में एमएंडए की गाइडलाइंस फाइनल हो गई हैं। गाइडलाइंस के तहत प्राइसिंग इश्यू भी फाइनल हुए हैं। कितने 2जी स्पेक्ट्रम की नीलामी होगी यह भी तय किया।


एमएंडए के इन नियमों को अगर कैबिनेट की मंजूरी मिल जाती है तो बड़ी टेलीकॉम कंपनियों को फायदा हो सकता है। ये कंपनियां छोटी टेलीकॉम कंपनियों का अधिग्रहण कर सकती हैं। ऐसे में आज भारती एयरटेल और आइडिया सेल्युलर में आज एक्शन दिख सकता है।


वीडियो देखें