Moneycontrol » समाचार » फाइनेंशियल प्लानिंग

योर मनी: हम-तुम और प्लानिंग

प्रकाशित Sat, 15, 2014 पर 13:14  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

योर मनी वेलेंटाइन स्पेशल में आज बता रहा है कैसे करें अपने शादीशुदा जीवन की शुरुआत। यदि आपकी शादी होने वाली है, या हाल ही में हो चुकी है तो कैसे आपको निवेश की प्लानिंग करना चाहिए। ताकि भविष्य के वित्तीय लक्ष्यों को आसानी से हासिल किया जा सके।


योर मनी के वेलेंटाइन डे स्पेशल शो में भावेन पटेल और एकता मौजूद रहे, जिनकी अगले कुछ दिनों में शादी होने वाली है। शादी के बाद उन्हें कैसे करना चाहिए अपनी भविष्य में अपने वित्तीय लक्ष्यों की प्लानिंग ये बता रहे हैं वाइज इंवेस्ट एडवाइजर्स के हेमंत रूस्तगी।


हेमंत रुस्तगी ने भावेन और एकता और सलाह देते हुए कहा कि सबसे पहले दोनों की आमदनी कितनी है उसका आकलन करें। आमदनी के मुताबिक ही अपने खर्च और निवेश की सीमा तय करें। एक सुखी जीवन के लिए सही फाइनेंशिय प्लानिंग बेहद जरूरी है। इसे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। सबसे पहले अपने लक्ष्यों को जानें कि भविष्य में आपको कहां पैसों की जरूरत हो सकती है। घर खरीदना, गाड़ी खरीदना और बच्चों की पढ़ाई-शादी इत्यादि ऐसे लक्ष्य हैं जिनके लिए शुरुआत से ही निवेश करना चाहिए।


निवेश के लिए हमेशा ये ध्यान रखें कि छोटे-छोटे निवेश के माध्यम से भी आप भविष्य के लिए एक बड़ी रकम जोड़ सकते हैं। स्वयं भी बचत और निवेश को प्राथमिकता दें, साथ ही अपने साथी को भी निवेश के लिए प्रोत्साहित करें। अपने घर का पूरा बजट तैयार करें और आमदनी पर आकलन करें। अपने खर्चों को इस तरह सीमित रखें की उसकी पूर्ति आपकी आमदनी में होने के अलावा हर आप आमदनी में से कुछ रकम निवेश कर सकें।


अपना एक पोर्टफोलियो बनाएं, ध्यान रहे कि आपके पोर्टफोलियो में बहुत ज्यादा फंड नहीं होने चाहिए जिसे मैनेज करने में आपको दिक्कत हो। पोर्टफोलियो में फंड थोड़े हों, लेकिन उनका बेहतर होना बेहद जरूरी है। क्योंकि आपके वित्तीय लक्ष्य की ये सबसे अहम कड़ी होते हैं। जरूरत और लक्ष्य के मुतबिक फंड को महत्व दें। यदि आपका लक्ष्य लंबी अवधि का है तो इक्विटी में निवेश करें, छोटी अवधि के लिए डेट फंड में निवेश करना चाहिए।


इसके अलावा अपनी सालाना आय का दस गुना रकम का टर्म प्लान लें। शुरुआती समय में इश्योरेंस के लिए टर्म प्लान को ज्यादा महत्व दें, ट्रेडिशनल प्लान इत्यादि फिलहाल नहीं लें। साथ ही करीब 6 महीनों के खर्च के बराबर की रकम इमरजेंसी फंड के तौर पर लिक्विड फंड में डाल सकते हैं।


वीडियो देखें