Moneycontrol » समाचार » बीमा

योर मनी: हेल्थ प्लान जल्दी लेना जरूरी

मनोज असवानी बता रहे हैं इंश्योरेंस लेते समय किन बातों का ख्याल रखें।
अपडेटेड Mar 14, 2014 पर 08:56  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

मायइंश्योरेंसक्लब डॉट कॉम के मनोज असवानी बता रहे हैं इंश्योरेंस लेते समय किन बातों का ख्याल रखें। वहीं कौन सी इंश्योरेंस पॉलिसी आपके लिए होगी सबसे बेहतर।


सवाल: मेरे पिताजी की उम्र 71 साल है। 2001 में उनकी बायपास सर्जरी हुई है और बीपी भी है। मैं उनके लिए एक हेल्थ पॉलिसी लेना चाहता हूं। क्या पॉलिसी मिल जाएगी, वहीं कौन सी पॉलिसी लेना बेहतर रहेगा?


जवाब: आपने पिताजी के लिए हेल्थ पॉलिसी लेने का निर्णय काफी देर से लिया है। पिताजी के लिए हेल्थ पॉलिसी आपको उनकी बायपास सर्जरी के दौरान ही ले लेना चाहिए। 71 साल की उम्र में पॉलिसी मिलना मुश्किल है। लेकिन स्टार हेल्थ सीनियर सिटीजन रेड कार्पेट और यूनाइटेड इंडिया सीनियर सिटीजन प्लान के लिए संबंधित इंश्योरेंस कंपनी से बात करिए। कंपनी को पिताजी की मौजूदा स्थिति के बारे में बताएं। पॉलिसी देने का अंतिम फैसला कंपनी का ही होगा।


सवाल: मैं अपने माता-पिता के लिए हेल्थ प्लान लेना चाहती हूं, उनकी उम्र 65 साल है। वहीं स्वयं के लिए भी एक इंडीविजुअल हेल्थ प्लान चाहिए। कौन सा प्लान लूं?


जवाब: आपको माता-पिता दोनों के लिए अलग-अलग प्लान लेना चाहिए। प्लान का प्रीमियम 10,000-14,000 रुपये तक आएगा। अपोलो म्युनिख और यूनाइटेड इंडिया के हेल्थ प्लान देख सकते है। वहीं खुद के लिए ऑनलाइन प्लान लें, यह काफई सस्ता पड़ेगा। आपसे पास अपोलो, स्टार हेल्थ, मैक्स बूपा और रेलीगेयर जैसे कई विकल्प हैं, जहां से प्लान ले सकते हैं।


सवाल: इंश्योरेंस एंजेंट ने फोन करके मेरे पिताजी को गिफ्ट के तौर पर बीएसएलआई की पॉलिसी दी। पिताजी ने भी पॉलिसी के लिए 30,000 रुपये का चेक एजेंट को दे दिया। लेकिन ये पॉलिसी हमारे बजट में नहीं लग रही है और इसे सरेंडर करना चाहते हैं, क्या करें?


जवाब: यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि केवल एक फोन पर लोग इंश्योरेंस पॉलिसी लेने को तैयार हो जाते हैं। इंश्योरेंस पॉलिसी बेचते समय किसी भी प्रकार का गिफ्ट इत्यादि का लालच नहीं दिया जाता है। सबसे पहले को इंश्योरेंस एजेंट के झांसे में नहीं आना चाहिए, वहीं पॉलिसी लेते समय उसके सभी नियम पढ़ने चाहिए। यहां यह भी पता नहीं बीएसएलआई का कौन सा प्लान आपको दिया गया है। ध्यान रखिए कभी भी फोन पर या गिफ्ट के लालच में पॉलिसी लेने का फैसला नहीं लेना चाहिए।


वीडियो देखें