Budget 2020: FY21 में नॉमिनल GDP ग्रोथ 10% पर रहने का अनुमान

2020 के लिए नॉमिनल जीडीपी ग्रोथ को 7.5 फीसदी पर रखा गया है, जो अपने 42 सालों के सबसे निचले स्तर पर है
अपडेटेड Feb 02, 2020 पर 12:16  |  स्रोत : Moneycontrol.com

1 फरवरी, 2020 को पेश किए गए बजट (Budget 2020) में केंद्र सरकार ने वित्तीय वर्ष 2021 (Fiscal Year 2021) में Nominal Gross Domestic Product (GDP) के 10 प्रतिशत पर रहने की उम्मीद जताई है। 31 जनवरी को इकोनॉमिक सर्वे पेश किया गया था, जिसमें फिस्कल ईयर 2020 के लिए नॉमिनल जीडीपी ग्रोथ को 7.5 फीसदी पर रखा गया है, जो अपने 42 सालों के सबसे निचले स्तर पर है।


नॉमिनल जीडीपी (Nominal gross domestic product) गुड्स और सर्विसेज के मौजूदा मार्केट प्राइस पर जीडीपी का आकलन करता है, वहीं जीडीपी सभी गुड्स और सर्विसेज का कुल मॉनेटरी वैल्यू होता है।


इस सर्वे में अनुमान लगाया गया है कि फिस्कल ईयर 2021 के लिए 6-6.5 फीसदी जीडीपी ग्रोथ रहेगा। वहीं सर्वे में फिस्कल ईयर 2020 का जीडीपी ग्रोथ पांच फीसदी पर रहने का अनुमान जताया गया है। पांच फीसदी जीडीपी ग्रोथ रेट पिछले 11 सालों का सबसे निचला स्तर है। 2019-20 के इकोनॉमिक सर्वे में जीडीपी ग्रोथ रेट सात फीसदी पर रहने का अनुमान जताया गया था।


Reserve Bank of India (RBI) ने भी 2020 के लिए अपना रियल जीडीपी ग्रोथ 6.1 फीसदी से संशोधित करके पांच फीसदी पर कर दिया है।


Central Statistics Office ने जनवरी में अपना पहला एडवांस्ड एस्टिमेट रिलीज किया था, जिसमें 2019-20 के लिए इकोनॉमिक ग्रोथ रेट पांच फीसदी पर रखा गया था, जो 2018-19 के 6.8 फीसदी के रेट से कम है।


सरकार ने gross value added (GVA) के 4.9 फीसदी पर रहने का अनुमान जताया है। इंटरनेशनल मॉनेटरी फंड ने non-banking financial sector के क्राइसिस और कमजोर रूरल मांग को देखते हुए अक्टूबर में दिए गए 6.1 फीसदी के अपने अनुमान को रिवाइज़ करके 4.8 फीसदी पर कर दिया है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।