Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

मक्के की 7 लाख हेक्टेयर फसल खराब, एग्री कमोडिटी में कहां होगी कमाई

सोयाबीन, प्याज और दाल के बाद अब मक्के की फसल खराब होने की खबर हैं।
अपडेटेड Dec 11, 2019 पर 19:51  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सोयाबीन, प्याज और दाल के बाद अब मक्के की फसल खराब होने की खबर हैं। फॉल आर्म वॉर्म कीड़ा लगने से करीब 7 लाख हेक्टेयर फसल खराब होने का अनुमान है। सबसे ज्यादा नुकसान महाराष्ट्र और कर्नाटक में हुआ है।


पिछले साल के मुकाबले इस बार 42 प्रतिशत ज्यादा नुकसान हुआ है। इसका महाराष्ट्र और कर्नाटक में सबसे ज्यादा असर हुआ है। वहीं कर्नाटक में 2.63 लाख हेक्टेयर फसल बरबाद हुई जबकि महाराष्ट्र में 2.32 लाख हेक्टर फसलों को नुकसान पहुंचा है। बता दें कि पिछले साल 5 लाख हेक्टेयर फसल बरबाद हुई थी।


प्याज के बाद अब बढ़ते दाल के भाव ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है। रिटेल में उड़द और तुअर दाल के भाव 100 प्रति किलो के पार पहुंच गए हैं। जिसके बाद सरकार इन दोनों दालों पर स्टॉक लिमिट लगाने की तैयारी कर रही है।


दालों की बढ़ती कीमतों के चलते तुअर और उड़द दाल पर स्टॉक लिमिट लगेगी। इसको प्राइस मॉनिटरिंग कमिटी ने हरी झंडी दी है। दोनों दालों के भाव 100 रुपये प्रतिख किलो के पार पहुंच गये हैं। सरकार ने दाल आयात की डेडलाइन भी बढ़ाई है। इससे व्यापारी 31 दिसंबर तक दोनों दाल आयात कर सकेंगे।


रिटेल में दाल के भाव


तुअर       100 रुपये प्रति किलोग्राम


उड़द       110 रुपये प्रति किलोग्राम


जून से अब तक कितने बढ़े दाम


तुअर         34 प्रतिशत


उड़द         40 प्रतिशत


उधर US FED के फैसले से पहले सोने-चांदी में सुस्त कारोबार नजर आ रहा है। अमेरिका में दरें स्थिर रहने का अनुमान है जिस पर आज देर रात US FED का फैसला आएगा।


अमेरिका में भंडार बढ़ने की खबरों से कच्चे तेल पर दबाव बना हुआ है। इससे ब्रेंट 64 डॉलर के नीचे फिसला है। टैरिफ टालने पर US-चीन में चल रही बातचीत पर भी नजर बनी हुई है।


बेस मेटल्स में आज अच्छी तेजी देखने को मिली है। LME पर निकेल का भाव 5 महीने के निचले स्तरों से सुधरा है। इंडोनेशिया से निकेल एक्सपोर्ट पर रोक की खबरों से सपोर्ट मिला है वहीं जिंक, लेड और कॉपर भी मजबूत बने हुए हैं।


प्याज की कीमतों पर काबू के लिए कैबिनेट सचिव की अहम बैठक चल रही है। इसमें फूड, कंज्यूमर अफेयर्स, कृषि और कॉमर्स मंत्रालय के सचिवों के साथ मंथन जारी है।


HDFC Securities के तपन पटेल की निवेश सलाह


एमसीएक्स सोना (फरवरी): खरीदें-37580 रुपये, लक्ष्य-37750 रुपये, स्टॉपलॉस-37500 रुपये


एमसीएक्स कच्चा तेल (दिसंबर): बेचें-4200 रुपये, लक्ष्य-4150 रुपये, स्टॉपलॉस-4230 रुपये


Paradigm Commodity के बीरेन वकील की निवेश सलाह


कॉटन (दिसंबर): खरीदें-19000 रुपये, लक्ष्य-19250 रुपये, स्टॉपलॉस-18860 रुपये


ग्वार (जनवरी): खरीदें-3950 रुपये, लक्ष्य-4150 रुपये, स्टॉपलॉस-3840 रुपये


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।