Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

कमोडिटी बाजारः चने में गिरावट बढ़ी, क्या करें

चने में गिरावट बढ़ गई है और सरसों भी करीब 1 फीसदी टूट गया है।
अपडेटेड Feb 11, 2019 पर 16:46  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

एग्री कमोडिटी में गेहूं 1 महीने की ऊंचाई पर है, लेकिन चने में गिरावट बढ़ गई है और सरसों भी करीब 1 फीसदी टूट गया है। दरअसल महाराष्ट्र और कर्नाटक की कंपनियों में नए चने की आवक हो रही है। ऐसे में कीमतों पर दबाव बना हुआ है। लेकिन इस साल चने की बुआई में करीब दस परसेंट की गिरावट आई है। देश भर में 96.4 लाख हेक्टेयर में चने की खेती हुई है। सूखे की वजह से कर्नाटक में इसका रकबा करीब 11 फीसदी और महाराष्ट्र में करीब 33 फीसदी गिर गया है। ऐसे में सवाल ये है कि कीमतों में मौजूदा गिरावट कितनी लंबी चलेगी। खाने के तेलों में गिरावट आई है और सोया और पाम तेल 0.5 से 1 फीसदी नीचे हैं। जबकि मसालों में धनिया में दबाव है, लेकिन हल्दी और जीरा बढ़त बनाने में कामयाब हैं।


सोने में कारोबार के शुरूआत से ही दबाव और अब इसमें गिरावट बढ़ गई है। इसका दाम 33000 रुपये के पास है। चांदी की भी चमक फीकी पड़ गई है और ये 40000 रुपये के नीचे आ गई है। इस बीच कच्चा तेल भी कमजोर पड़ गया है। ग्लोबल मार्केट में गिरावट से घरेलू बाजार पर दबाव है। बेस मेटल में निकेल को छोड़कर चौतरफा गिरावट आई है। खास करके लेड और जिंक में दबाव ज्यादा है।


एंजेल कमोडिटीज की निवेश सलाह


कॉपरः खरीदें 437 रुपये, स्टॉपलॉस 432 रुपये, लक्ष्य 445 रुपये


कच्चा तेलः बेचें 3780 रुपये, स्टॉपलॉस 3840 रुपये, लक्ष्य 3680 रुपये