Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

नॉन एग्री कमोडिटीज पर एक्सपर्ट का नजरिया, जानिए कहां होगी कमाई

अमेरिका और चीन में ट्रेड डील को लेकर अनिश्चितता के कारण प्रीसियस मेटल्स से लेकर मेटल्स और क्रूड में काफी उठापटक रही।
अपडेटेड Nov 08, 2019 पर 18:05  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

चालू हफ्ता नॉन एग्री कमोडिटीज के लिए काफी Happening भरा रहा है। अमेरिका और चीन में ट्रेड डील को लेकर अनिश्चितता के कारण प्रीसियस मेटल्स से लेकर मेटल्स और क्रूड में काफी उठापटक रही। अंतरराष्ट्रीय बाजार में चांदी में करीब 6 फीसदी तो सोने में 3 फीसदी गिरावट देखने को मिली, वहीं नैचुरल गैस और कच्चे तेल में बढ़ोतरी देखी गई। लेकिन नॉन एग्री कमोडिटीज का अब आउटलुक कैसा लग रहा है और आगे इनमें क्या रणनीति बनाना चाहिए।


सोने-चांदी में गिरावट


US-चीन ट्रेड डील से सोने-चांदी पर दबाव देखने को मिल रहा है। COMEX पर सोना-चांदी 1 महीने के निचले स्तर पर कारोबार कर रहा है। COMEX पर इस हफ्ते सोना 3 फीसदी और चांदी 6 फीसदी गिरा है जबकि MCX पर इस हफ्ते सोना 1.5 फीसदी और चांदी 4.5 फीसदी की गिरावट देखऩे को मिली है। US-चीन ट्रेड डील से सोने-चांदी पर दबाव


बेस मेटल्स के फंडामेंटल्स


बेस मेटल्स के फंडामेंटल्स पर बात करें तो चीन की इकोनॉमी में सुस्ती से डिमांड को लेकर चिंता बनी है। अक्टूबर में चीन का कॉपर आयात 3.1 फीसदी गिरी है। US-चीन ट्रेड डील को लेकर मिलेजुले संकेत नजर आ रहे है। इंडोनेशिया से निकेल आयात सीमित रूप से खुला है।


क्रूड के फंडामेंटल्स


क्रूड के फंडामेंटल्स पर बात करें तो US-चीन डील को लेकर आशंका बरकरार है। ग्लोबल डिमांड में कमी के आसार नजर आ रहे है जबकि अमेरिकी भंडार में लगातार बढ़त देखने को मिल रही है। दरअसल क्रूड को OPEC की सप्लाई कटौती से सहारा मिल रहा है।


Paradigm Commodity के बीरेन वकील की निवेश सलाह


कच्चा तेल (नवबंर वायदा): बिकवाली करें 4100 रुपये, लक्ष्य 3950 रुपये, स्टॉपलॉस 4170 रुपये


जिंक (नवबंर वायदा): बिकवाली करें 191 रुपये, लक्ष्य 195 रुपये, स्टॉपलॉस 189 रुपये


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।