Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

रिकॉर्ड हाई से 10,000 रुपये सस्ता हुआ सोना, क्या है निवेश का ये राइट टाइम!

रिकॉर्ड हाई से सोना दस हजार रुपए सस्ता मिल रहा है और भाव अभी और नीचे आ सकते हैं
अपडेटेड Sep 25, 2021 पर 14:52  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रिकॉर्ड हाई से सोना दस हजार रुपए सस्ता मिल रहा है और जानकारों के मुताबित भाव अभी और नीचे आ सकते हैं। वैक्सीनेशन की फुल स्पीड और इकोनॉमी में शानदार रिकवरी के संकेतों ने सोने पर दबाव बनाया है। इसके अलावा US Fed की उम्मीद से पहले दरें बढ़ाने के संकेत, Strong डॉलर और चीन का Evergrande संकट टलने समेत कई ट्रिगर हैं, जो गोल्ड पर दबाव बना रहे हैं। ऐसे में आपको क्या करना चाहिए? क्या सोना खरीदने का ये सही मौका है या अभी थोड़ा इंतजार करें?
 
1 साल में 10,000 सस्ता


1 साल में सोने की चाल पर नजर डालें तो अगस्त 2020 में सोने की कीमत 56,191 रुपये प्रति 10 ग्राम थी जबकि सितंबर 2021 में सोने की कीमत 46,000रुपये प्रति 10 ग्राम है।


 गोल्ड प्राइसेज पर प्रेशर, ग्लोबल ग्रोथ में कमी के अनुमान और कमजोर इकोनॉमिक डेटा का असर


सोने में गिरावट की बड़ी वजह


सोने में गिरावट की बड़ी वजह यह भी है कि डॉलर इंडेक्स एक महीने की हाई पर पहुंचा है। Fed ने उम्मीद से पहले दरें बढ़ाने के संकेत दिए है।  Fed 2022 मध्य तक पैकेज खत्म कर सकता है। वही वैक्सीनेशन में तेजी, इकोनॉमी में रिकवरी के संकेत नजर आ रहे है। इस बीच चीन का Evergrande संकट टलने से भी इसमें दबाव बना है।


सोने में निवेश का मौका !


फेस्टिवल सीजन में सोने में बड़ी गिरावट आई है। सोना 6 हफ्ते के निचले स्तर पर फिसला  है। कॉमेक्स पर सोने का भाव 1750 डॉलर के लेवल के करीब है जबकि  MCX पर  46,000 के स्तर पर  कारोबार कर रहा है। SPDR Gold ETF होल्डिंग 8.1 टन घटी है। गुरुवार को होल्डिंग 0.8% घटकर 992.65 टन पर रही है। सोने का भाव रिकॉर्ड हाई से करीब 20% नीचे पहुंचा है। 7 अगस्त 2020 को 56191 का रिकॉर्ड हाई बनाया था।


हॉलमार्किंग पर नया विरोध


इस बीच हॉलमार्किंग पर नया विरोध खड़ा हो गया है। हॉलमार्किंग सेंटर्स ने 1 दिन की हड़ताल का फैसला किया है।  हॉलमार्किंग सेंटर 28 सितंबर को हड़ताल पर जाएंगे। हॉलमार्किंग फीस बढ़ाकर  60 रुपये प्रति पीस करने की मांग कर रहे है।

ज्वेलर्स का कहना है कि सरकार की अनिवार्य हॉलमार्किंग पर नीतियां साफ नहीं है। हॉलमार्किंग सेंटर्स सरकार की नए SOP के खिलाफ है। बिना स्टेकहोल्डर से सलाह लिए SOP जारी किया  है। मांगे नहीं मानने पर अनिश्चितकाल हड़ताल की धमकी भी दी है।  ज्वेलर्स को भी हॉलमार्किंग करने की मंजूरी दी गई है


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें