Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

सोने ने किया मालामाल, आगे क्या हो रणनीति

प्रकाशित Mon, 05, 2018 पर 16:50  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सोना कभी नष्ट नहीं होता है और इसी खासियत की वजह से सोने में निवेश को शुभ माना जाता है। पिछले 1 साल में सोने ने 8 फीसदी का रिटर्न दिया है और इसीलिए ये धनतेरस कुछ खास है। क्योंकि इस बार पर सोना सबसे महंगा बिक रहा है। भाव 32000 और कहीं-कहीं इससे भी ऊपर है। तो सवाल ये है कि इस भाव पर सोने में निवेश कितना फलदायी होगा और सोने के किस विकल्प को चुनें ताकि आपको हो बेहतर मुनाफा।


इस बार सोने का सबसे ऊंचा भाव चल रहा है। पिछले साल से करीब सोने में 8 फीसदी का रिटर्न देखने को मिला है जबकि पिछले 5 साल में सोने की कीमतों में करीब 20 फीसदी का उछाल देखने को मिला है। गोल्ड बॉन्ड में भी निवेश का मौका मिला है। एमसीएक्स के अलावा एनएसई और बीएसई पर भी सोना वायदा में कारोबार हो रहा है।


बता दें कि सोने में निवेश पिछले 4 साल से लगातार मुनाफा दे रहा है। समृद्धि के लिए सोने में करें निवेश करें, क्योंकि ये महंगाई को हराने के लिए सबसे कारगार माना जा रहा है। हालांकि सोने की कीमतों में और भी उछाल देखने को संभावनाएं बनी हुई है। कमजोर रुपए से सोने को काफी सपोर्ट मिला है जबकि ट्रेड वॉर से ग्लोबल ग्रोथ को झटके की आशंका भी जताई जा रही है। ऐसे में सोने की कीमतों में उछाल देखने को मिल सकता है।


वहीं गोल्ड बॉन्ड में भी मुनाफे के सौदे मिल रहे है। गोल्ड बॉन्ड में ऑनलाइन निवेश पर 50 प्रति यूनिट की छूट मिल रही है। 1 ग्राम से 4 किलो तक में निवेश संभव है। 8 साल मियाद और 5 साल बाद निकलने की सुविधा भी मिल रही है। निवेश पर सलाना 2.5 फीसदी ब्याज भी मिलेगा। सोने पर निवेश के विकल्प की बात करें तो निवेशक ज्वेलरी, वायदा, गोल्ड बॉन्ड और ईटीएफ में निवेश कर सकते है।