Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

देरी से होगी रबी की बुआई तो जानिये आगे कौन सी एग्री कमोडिटीज में होगी कमाई

खरीफ फसलों की कटाई में देरी से रबी की बुआई में देरी के आसार हैं।
अपडेटेड Nov 03, 2019 पर 13:43  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

रबी फसलों की बुआई का समय शुरू हो गया है लेकिन तूफान के कारण देश के कई हिस्सों में अभी भी बारिश जारी है, जिससे खरीफ फसलों की कटाई और आवक में सुस्ती देखने को मिल रही है। खरीफ फसलों की कटाई में देरी से रबी की बुआई में देरी के आसार हैं। इंटरनेशनल फैक्टर्स की बात करें तो ट्रेड वॉर, RCEP और मलेशिया से जारी तनाव भी कमोडिटीज बाजार के लिए अहम हैं। इन सब चीजों के बीच एग्री कमोडिटीज में अब आपको क्या रणनीति बनाना चाहिए इसी पर आज इस शो में सीएनबीसी-आवाज़ का फोकस होगा।


खरीफ फसलों की आवक होगी कम


अबकी देर तक चले मॉनसून सीजन से खरीफ फसलों की आवक पिछड़ी है। इस बार खरीफ फसलों की आवक पिछले साल से 5-50 प्रतिशत कम है। इससे रबी सीजन की बुआई में देरी के आसार भी हैं। विशेषकर गेहूं, चना, सरसों की बुआई पिछड़ सकती है। वहीं रबी की बुआई में देरी से उत्पादन पर असर मुमकिन है। रबी के सीजन में अनाज उत्पादन का लक्ष्य 14.32 करोड़ टन है। उधर महा तूफान के कारण फसलों पर असर पड़ने की संभावना है।


कॉटन पर USDA का अनुमान


USDA का अनुमान है कि इस साल देश में 390 लाख गांठ उत्पादन होने की उम्मीद है जबकि पिछले साल देश में 312 लाख गांठ कॉटन पैदा हुई थी। वहीं इस साल घरेलू खपत 316 लाख गांठ रहने का अनुमान जताया गया है।


चीनी उत्पादन में कमी के आसार


चीनी की बात करें तो FY20 का शुगर प्रोडक्शन अनुमान से कम रह सकता है। इस बार चीनी उत्पादन घटकर 2.69 करोड़ टन रहने के आसार हैं। इससे ग्लोबल शुगर सप्लाई पर 77 लाख टन का असर पड़ेगा। इस बार खराब मौसम के चलते शुगर प्रोडक्शन घटने की आशंका जताई जा रही है। बता दें कि पिछले साल देश में 3.31 करोड़ टन चीनी का उत्पादन हुआ था।


सोयाबीन उत्पादन


इस साल सोयाबीन उत्पादन कम होने के आसार हैं। देर तक चलने वाली बारिश से MP, राजस्थान में फसल को नुकसान पहुंचा है। इससे सोयाबीन उत्पादन में करीब 18 प्रतिशत गिरावट मुमकिन है। इस साल सोयाबीन उत्पादन 90 लाख टन रहने की उम्मीद है।


Kunvarji Group के रवि दियोरा की निवेश सलाह


एनसीडीईएक्स धनिया (दिसंबर): खरीदें-6710 रुपये, लक्ष्य-6900 रुपये, स्टॉपलॉस-6560 रुपये


एनसीडीईएक्स सोया तेल (दिसंबर): खरीदें-768 रुपये, लक्ष्य-785 रुपये, स्टॉपलॉस-754 रुपये


एनसीडीईएक्स हल्दी (दिसंबर): खरीदें-6150 रुपये, लक्ष्य-6400 रुपये, स्टॉपलॉस-6020 रुपये


Axis Securities के सुनील कटके की निवेश सलाह


एमसीएक्स कॉटन: खरीदें-19400 रुपये, स्टॉपलॉस-18800 रुपये, लक्ष्य-21000 रुपये


एमसीएक्स सोयाबीन: खरीदें-3900 रुपये, स्टॉपलॉस-3800 रुपये, लक्ष्य-4100 रुपये


एमसीएक्स क्रूड़ पॉम तेल: खरीदें-585 रुपये, स्टॉपलॉस-578 रुपये, लक्ष्य-620 रुपये


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।