Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

RBI ने फिर खरीदा सोना, लीबिया में राजनीतिक तनाव से क्रूड में तेजी

RBI ने भी 5 महीने बाद सोने की खरीदारी की है, जानिए क्या है गोल्ड पर आउटलुक
अपडेटेड Jan 20, 2020 पर 16:27  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

सोने में आज छोटे दायरे में कारोबार हो रहा है। अमेरिका के अच्छे इकोनॉमिक डेटा से रिस्क सेंटीमेंट मजबूत हुआ है हालांकि, लूनर न्यू ईयर से पहले चीन और हॉन्ग कॉन्ग में सोने की डिमांड बढ़ी है, इसके अलावा RBI ने भी 5 महीने बाद सोने की खरीदारी की है जिससे कीमतों को सपोर्ट मिल रहा है।


अब आगे सोने की कीमतों को लेकर क्या आउटलुक बन रहा है। शादियों के सीजन में ज्वेलरी की डिमांड कैसी है। आज इसी पर बात होगी। इसपर बात करने के लिए सीएनबीसी-आवाज़ के साथ India Bullion & Jewellers Association के सेक्रेटरी सुरेंद्र मेहता, Bawa Jewellers के गौरव बावा और Nirmal Bang Commodities के कुणाल शाह जुड़ गए हैं।


सोना छोटे दायरे में


अमेरिका के अच्छे आंकड़ों से बढ़त रुकी


MCX पर दाम 40,000 के करीब


चीन और हॉन्ग कॉन्ग के इंपोर्ट में इजाफा


लूनर न्यू ईयर से पहले चीन में डिमांड बढ़ी


भारत में सोने के इंपोर्ट में कमी आई


भारत में सोने के दाम फिर डिस्काउंट पर आए


RBI ने फिर खरीदा सोना


RBI ने 5 महीने बाद फिर सोना खरीदा है


RBI ने अक्टूबर में 7.5 टन सोना खरीदा है


RBI के पास अब 625.2 टन सोना के भंडार है


कच्चे तेल की कीमतों में आज तेजी देखने को मिल रही है। लीबिया के 2 ऑयलफील्ड में उत्पादन रुकने से कच्चे तेल की कीमतों को सपोर्ट मिल रहा है। ब्रेंट के दाम फिर 65 डॉलर के ऊपर निकल गए हैं। लीबिया में तनाव के कारण सेना ने दो पाइपलाइन को बंद कर दिया है जिससे सप्लाई पर असर पड़ा है।


ब्रेंट के दाम फिर 65 डॉलर के ऊपर आए


लीबिया में सप्लाई प्रभावित होने से तेजी आई है


लीबिया के 2 ऑयलफील्ड में उत्पादन बंद हो गया


लीबिया में राजनीतिक तनाव से उत्पादन पर असर हुआ है


बेस मेटल्स में आज ज्यादा मजबूती देखने को मिल रही है। अमेरिका और चीन से आए अच्छे आर्थिक आंकड़ों से कीमतों को सपोर्ट मिल रहा है। चीन के इंडस्ट्रियल आउटपुट और रिटेल सेल्स में दिसंबर में अच्छी बढ़त देखने को मिली है। इसके अलावा US को होम बिल्डिंग के आंकड़े भी अच्छे रहे हैं।


मूंगफली के निर्यात पर रोक लगा सकती है सरकार


खाद्य तेलों की बढ़ती कीमतों को देखते हुए सरकार मूंगफली के निर्यात पर रोक लगा सकती है साथ ही नेफेड भी खुले बाजार में मूंगफली बेच सकता है। खाने के तेलों की बढ़ती कीमतों के मद्देनजर रोक संभव है। Nafed डेढ़ लाख टन मूंगफली खुले बाजार में बेचेगा। पिछले कुछ दिनों में खाने के तेलों के दाम 15-20 प्रतिशत बढ़े हैं। मलेशिया से इंपोर्ट घटाने से दाम बढ़े हैं।


दालें होंगी सस्ती


केंद्र सरकार बाजार में दाल की कीमत घटाने के लिए राज्यों को 15 रुपए प्रति किलो की छूट दे सकती है सूत्रों के मुताबिक कृषि सचिव ने वित्त सचिव को चिट्ठी लिखकर यह छूट देने की मांग की है। केंद्र सरकार ने बफर स्टॉक में से राज्यों को 8.5 लाख टन दालें बेचने का फैसला किया है। राज्यों ने अभी तक इसमें रुचि नहीं दिखाई है। सरकार को मात्र 2000 टन के लिए मांग मिली है। बाजार में उड़द की दाल 110 रुपये किलो जबकि मूंग की दाल 105 रुपये किलो मिल रही है।


Nirmal Bang Commodities के कुणाल शाह की ट्रेडिंग टिप्स


सोनाः खरीदें-39910 रुपये, स्टॉपलॉस-39780 रुपये, लक्ष्य-40150 रुपये


कच्चा तेलः खरीदें-4200 रुपये, स्टॉपलॉस-4150 रुपये, लक्ष्य-4270 रुपये


कॉपरः खरीदें-455 रुपये, स्टॉपलॉस-458.90 रुपये, लक्ष्य-452 रुपये


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।