Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

सोने के साथ चांदी भी चमकी, दिग्गजों से जानिये कमाई के मंत्र

फिलहाल सोने में जारी है तेजी का दौर जारी है। सोने के साथ चांदी भी चमकी है। सोने में तेजी की वजह US-चीन में ट्रेड वॉर बढ़ने का खतरा है।
अपडेटेड Aug 10, 2019 पर 15:44  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

ग्लोबल ग्रोथ में सुस्ती, दुनिया भर में ब्याज दरें घटने का सिलसिला शुरू होने और Geopolitical Tension ने एक बार फिर सोने का सुनहरा वक्त ला दिया। पिछले एक महीने में ही घरेलू बाजार में सोने के दाम 9 प्रतिशत बढ़ गए है, चालू साल की बात करें तो सोने करीब 21 प्रतिशत के रिटर्न दिए हैं। लेकिन अभी भी सोने की तेजी थमने का नाम नहीं ले रही है।


आगे सोने में और कितनी तेजी दिखेगी और कौन सी चीजें सोने के बुल रन को बढ़ावा देंगे इसी पर इस खास शो में CNBC-TV18 की कमोडिटी एडिटर मनीषा गुप्ता, कमोडिटी गुरु G.Chandrashekhar, tarunsatsangi.com के तरुण सत्संगी और Premji Valji Jewellers के हरेश सोनी से चर्चा करेंगे।


फिलहाल सोने में जारी है तेजी का दौर जारी है। सोने के साथ चांदी भी चमकी है। सोने में तेजी की वजह US-चीन में ट्रेड वॉर बढ़ने का खतरा है। इसके अलावा अमेरिका में ब्याज दरों में कटौती से भी सोना तेज हुआ है। ग्लोबल ग्रोथ में सुस्ती की आशंका और दुनिया भर के सेंट्रल बैंकों की खरीदारी से भी सोना महंगा हुआ है।


सोने में रिटर्न की बात करें तो इसने 1 हफ्ते में 6.73 प्रतिशत, 1 महीने में 9 प्रतिशत, आज की तिथि तक 21 प्रतिशत और सालाना आधार पर 27.5 प्रतिशत रिटर्न दिया है।


सेंट्रल बैंको द्वारा सोने की खरादारी नजर डालें तो साल 2014 में 584 टन, साल 2015 में 576 टन, साल 2016 में 390 टन, साल 2017 में 377 टन और साल 2018 में 657 टन एवं साल 2019 की पहली छमाही तक में 374 टन सोने की खरीदारी की है।