Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

कमोडिटी पर ट्रेड वॉर की मार, क्या हो रणनीति

प्रकाशित Fri, 06, 2018 पर 16:43  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कमोडिटी बाजार में इस हफ्ते मेटल में सबसे ज्यादा एक्शन दिखा है। अमेरिका और चीन में ट्रेड वॉर गहराने की आशंका से कॉपर का दाम करीब 5 फीसदी लुढ़क गया है। जो पिछले 3 साल की सबसे बड़ी वीकली गिरावट है। वहीं जिंक में 6 फीसदी की भारी गिरावट आई है। पिछले 10 दिनों से लगातार मेटल टूट रहे हैं। अमेरिका के कदम के बाद अब चीन ने भी सख्ती दिखाने के संकेत दिया है। लेकिन सवाल ये है कि पूरे मेटल मार्केट पर दबदबा रखने वाला चीन अब कौन सी चाल चलेगा और क्या चीन की चाल मेटल पर भारी पड़ेगा।


कॉपर और जिंक 1 साल के निचले स्तर पर कारोबार कर रही है जबकि निकेल, लेड 3 महीने के निचले स्तर पर कारोबार करता नजर आ रहा है। वहीं एल्युमिनियम 3 महीने के निचले स्तर पर नजर आ रहा है। इस हफ्ते कॉपर का भाव 5 फीसदी की गिरावट आई है जबकि कॉपर में 3 साल की सबसे बड़ी वीकली गिरावट आई है। जिंक इस हफ्ते करीब 6 फीसदी लुढ़का है।


दरअसल अमेरिका और चीन में ट्रेड वॉर के खतरे से मेटल सेक्टर में गिरावट आई है।  अमेरिका ने स्टील पर 25 फीसदी इंपोर्ट ड्यूटी लगाई है जबकि यूएस में एल्युमिनियम पर 10 फीसदी इंपोर्ट ड्यूटी लगी है। वहीं चीन का भी अमेरिकी इंपोर्ट पर सख्ती का संकेत है। ट्रेड वॉर से मेटल की मांग में कमी की आशंका जताई जा रही है। डॉलर इंडेक्स करीब 1 साल की ऊंचाई पर है।


वहीं रुपया रिकॉर्ड निचले स्तर के पास पहुंच गया है। डॉलर इंडेक्स 11 महीने की ऊंचाई पर कारोबार कर रहा है। एक डॉलर की कीमत 69 तक पहुंच गई है। इस साल रुपया करीब 10 फीसदी टूटा है।