Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी खबरें

कमोडिटी बाजारः सोने-चांदी में तेजी, क्या करें

प्रकाशित Mon, 05, 2018 पर 16:43  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नॉन एग्री कमोडिटी में आज बेस मेटल में एक्शन है और इसमें चौतरफा गिरावट आई है। खास तौर से जिंक और निकेल में गिरावट ज्यादा है। इधर डॉलर में आई गिरावट से सोने की चमक बढ़ गई है। ग्लोबल मार्केट में इसका दाम करीब एक चौथाई फीसदी ऊपर है। वहीं इसका असर घरेलू बाजार पर भी पड़ा है और ये करीब 75 रुपये की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है। इस दौरान चांदी में भी करीब 0.5 फीसदी की तेजी आई है।


एग्री कमोडिटी में आज एक्शन ज्यादा है। इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ने से खाने के तेलों में जोरदार तेजी आई है और सोया और पाम तेल के साथ सरसों और सोयाबीन में भी बढ़त पर कारोबार हो रहा है। दरअसल केंद्र सरकार ने पाम तेल पर इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ा दी है। क्रूड पाम तेल पर इंपोर्ट ड्यूटी 30 फीसदी से बढ़ाकर 44 फीसदी कर दी है। वहीं रिफाइंड पाम तेल पर इंपोर्ट ड्यूटी 40 फीसदी से बढ़ाकर 54 फीसदी कर दी गई है। दरअसल खाने के तेलों में सबसे ज्यादा इंपोर्ट पाम तेल का होता है और इसके बढ़ते इंपोर्ट से घरेलू बाजार में सोयाबीन और सरसों के किसानों को काफी नुकसान हो रहा था। सरकार के इस कदम से सरसों और सोयाबीन का दाम भी उछल गया है।


वहीं इंपोर्ट ड्यूटी का फायदा चने को भी मिला है और इसकी शुरुआती तेजी अब कम हो गई है। साथ ही गेहूं में भी हल्की मजबूती है। मसालों में जीरे का भाव 1 फीसदी गिर गया है। वहीं हल्दी भी दबाव में है। लेकिन इलायची में 4 फीसदी का ऊपरी सर्किट लग गया है।


एसएमसी कमोडिटी की निवेश सलाह


एनसीडीईएक्स हल्दी (मार्च वायदा): बेचें 6465, स्टॉपलॉस 6520, लक्ष्य 6350


एनसीडीईएक्स जीरा (मार्च वायदा): बेचें 14300, स्टॉपलॉस 14,450 लक्ष्य 14000


कुंवरजी कमोडिटी की निवेश सलाह


एमसीएक्स जिंक (मार्च वायदा): बेचें 217.8, स्टॉपलॉस 219.8 लक्ष्य 212.6


एमसीएक्स सोना (अप्रैल वायदा): खरीदें 30500, स्टॉपलॉस 30460 लक्ष्य 30680