Moneycontrol » समाचार » कमोडिटी न्यूज

अक्टूबर 2018 के बाद के ऊपरी स्तर पर WTI क्रूड, क्या अब भी है इसमें निवेश के मौके

ब्रेंट के दाम 75 डॉलर के करीब पहुंचने वाले हैं। डिमांड में रिकवरी के कारण क्रूड में लगातार तेजी है।
अपडेटेड Jun 16, 2021 पर 15:57  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

कच्चे तेल की कीमतों में उबाल जारी है। ब्रेंट के दाम 75 डॉलर के करीब पहुंचने वाले हैं। डिमांड में रिकवरी के कारण क्रूड में लगातार तेजी है। WTI क्रूड अक्टूबर 2018 के बाद के ऊपरी स्तर पर है। उधर, चीन के स्टेट रिजर्व से स्टॉक बेचने की खबर के कारण मेटल्स पर दबाव बना हुआ है।


वहीं दूसरी तरफ सरकार ने हॉलमार्किंग के मामले में ज्वेलर्स को बड़ी राहत दी है। नई गाइडलाइंस के मुताबिक अगस्त तक बिना हॉलमार्किंग वाली ज्वेलरी बेचने पर कोई पेनाल्टी नहीं लगेगी। साथ ही सरकार ने  हॉलमार्किंग का दायरा बढ़ाते हुए 20, 23, 24 कैरट की ज्वेलरी को भी इसमें शामिल किया है। इसके अलावा 40 लाख तक सालाना टर्नओवर करने वाले ज्वेलर्स को हॉलमार्किंग से छूट दी है।


क्रूड में उबाल


WTI क्रूड अक्टूबर 2018 के बाद सबसे ऊंचे स्तर पर है। ब्रेंट के दाम अप्रैल, 2019 के बाद सबसे ऊंचे स्तर पर है। API ने कहा है कि US की क्रूड इंवेंट्री में 85 लाख बैरल की कमी आई है। ईरान में चुनाव से पहले न्यूक्लीयर डील की उम्मीद नहीं है। अमेरिका और यूरोप में ट्रैवल को लेकर पाबंदियों में ढील दी जा रही है। वहीं OPEC+ धीरे-धीरे सप्लाई में बढ़ोतरी करेगा।Vitol का कहना है कि 2021 में क्रूड 70-80 डॉलर के दायरे में रहेगा जबकि Trafigura ने कहा है कि रिजर्व घटने से क्रूड  100 डॉलर तक जा सकता है।


GOLDMANS SACHS ON OIL


ब्रोकरेज फर्म GOLDMANS SACHS का कहना है कि आगे भी कच्चे तेल में आगे तेजी संभव है।  ब्रेंट के दाम 80 डॉलर तक जा सकता है ।GOLDMANS SACHS ने कहा है कि US में डिमांड बढ़ने से क्रूड में तेजी बढ़ी है। ईरान के साथ बातचीत में ज्यादा प्रगति नहीं। मई 2019 की ऊंचाई पर ब्रेंट का भाव है।  वैक्सीनेशन से भी डिमांड को सपोर्ट है। WTI और Brent के बीच कीमतों का अंतर घटा है।


मेटल्स पर दबाव कायम


कॉपर 7 हफ्ते के निचले स्तर पर कारोबार कर रहा  है। चीन की सख्ती के कारण मेटल्स कमजोर हुए है। चीन स्टेट रिजर्व से कॉपर, एल्युमिनियम, जिंक बेचेगा। डॉलर में मजबूती के कारण मेटल्स पर दबाव बना हुआ है। US-Fed की बैठक पर बाजार की नजर रहेगी।
 
सोना छोटे दायरे में


कॉमेक्स पर भाव 1 महीने के निचले स्तर पर पहुंच गया है। डॉलर में मजबूती के कारण सोना फिसला है। US Fed की बैठक पर बाजार की नजर होगी। US Fed के राहत पैकेज को लेकर संकेतों पर नजर है। महंगाई को लेकर हेजिंग में कमी आई है। गोल्ड ETF की खरीदारी में कमी आई है।


चांदी में रिकवरी


MCX पर चांदी 71500 के करीब कारोबार कर रहा है। US Fed की बैठक पर बाजार की नजर है।


Axis Securities के Sunil Katke की निवेश सलाह


Sell CPO July at 1021 SL 1026 Target 1010



Sell Gold Aug at 48550 SL 48750 Target 48100


Sell Silver july at 71650 SL 72000 Target 70800


Buy Crudeoil at 5310 SL 5270 Trget 5360


Sell Copper june 718 SL 721 Target 708



Moneylicious Capital के Jay Prakash Gupta की निवेश सलाह


Buy Gold 48500 SL 48200 Tgt 49300


Sell Copper 716 SL 723 Tgt 702


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें.