Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

Jio Platforms-Vista Equity Partners डील की अहम बातें जो जानना हैं जरुरी

यह डील अप्रैल में हुई फेसबुक डील से 12.5 फीसदी प्रीमियम पर हुई है।
अपडेटेड May 11, 2020 पर 08:35  |  स्रोत : Moneycontrol.com

विस्टा इक्विटी पार्टनर्स (Vista Equity Partners) ने जियो प्लेटफॉर्म्स (Jio Platforms) में 11367 करोड़ का बड़ा निवेश किया है। Vista Equity ने  जियो प्लेटफॉर्म्स  में 2.32 फीसदी हिस्सा खरीदा है। Vista Equity Partners ने जियो प्लेटफॉर्म्स में ये निवेश बतौर Technological Partner किया है। ये निवेश FB डील से 12.5 फीसदी प्रीमियम पर किया गया है। यानी ये सौदा FB डील के भाव से 12.5 फीसदी महंगा है। बता दें कि Vista Equity Partners US का निवेश फंड है।


इस निवेश के 5 अहम बिंदु हैं जिनको जानना जरुरी है.


1. यह डील अप्रैल में हुई फेसबुक  ( Facebook)डील से 12.5 फीसदी प्रीमियम पर हुई है। दूसरे शब्दों में कहें तो ये डील अप्रैल में हुए फेसबुक के साथ हुई डील की तुलना में 12.5 फीसदी ऊंचे भाव पर हुई है। जियो प्लेटफॉर्म में  Vista Equity के इस निवेश के लिए Equity Value 4.91 लाख करोड़ तय हुई है। वहीं, Enterprise Value 5.16 लाख करोड़ तय हुई है।


2. विस्टा इक्विटी पार्टनर्स (Vista Equity Partners) अब रिलायंस इंडस्ट्रीज और फेसबुक के बाद जियो प्लेटफॉर्म (Jio Platforms)में निवेश करने वाली तीसरी सबसे बड़ी निवेशक बन गई है जबकि 4 मई को जियो प्लेटफॉर्म में निवेश के लिए करार करने वाली  सिल्वरलेक पार्टनर्स (SLP) 1 फीसदी निवेश के साथ चौथी बड़ी निवेशक है।


3.  22 अप्रैल को जियो प्लेटफॉर्म में फेसबुक के 9.99 फीसदी स्टेक खरीदने के 16 दिन के अंदर हुआ ये तीसरा निवेश करार है। इन करारों के जरिए कंपनी करीब 60596.37 करोड़ या करीब 8.19 अरब डॉलर जुटाने में कामयाब रही है।


4.  जियो प्लेटफॉर्म अब विस्टा इक्विटी पार्टनर्स के टेक फोक्सड कंपनियों के 57 अरब डॉलर वाले पोर्टफोलियो में शामिल हो गई है। विस्टा इक्विटी पार्टनर्स दुनिया की 5वीं सबसे बड़ी एंटरप्राइज सॉफ्टवेयर कंपनी है।


5. मार्केट कैप के नजरिए से देखें तो जियो प्लेटफॉर्म वैल्यूएशन के आधार पर भारत की चौथी सबसे बड़ी कंपनी बन गई है। इसका मार्केट कैप एफएमसीजी कंपनी एचयूएल से ज्यादा हो गया है। मार्केट कैप के नजरिए से देखें तो सिर्फ रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL), टीसीएस और एचडीएफसी ही इससे आगे हैं। बता दें कि जियो प्लेटफॉर्म लिस्टेड नहीं है।


(डिस्क्लेमर: नेटवर्क 18 मीडिया एंड इनवेस्टमेंट लिमिटेड पर इंडिपेंडेंट मीडिया ट्रस्ट का मालिकाना हक है। इसकी बेनफिशियरी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज है।)


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।