Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

AGR मामला: वोडाफोन आइडिया ने चुकाए 2500 करोड़ रुपए, कुल बकाया 50,000 करोड़ रुपए

आज सुबह भारती एयरटेल ने 10,000 करोड़ रुपए चुकाए और बाकी रकम 17 मार्च से पहले देने का वादा किया
अपडेटेड Feb 18, 2020 पर 13:35  |  स्रोत : Moneycontrol.com

वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) ने सोमवार को AGR की बकाया रकम में से 2500 करोड़ रुपए दूरसंचार विभाग को चुका दिया। एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू यानी AGR पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से वोडाफोन आइडिया को तगड़ा झटका लगा है।


लाइव मिंट के मुताबिक, इस मामले की जानकारी रखने वाले एक शख्स ने बताया, " कंपनी ने सोमवार को 2500 करोड़ रुपए चुका दिए। और 1000 करोड़ रुपए शुक्रवार तक देगी। कंपनी अपनी मंशा साफ करने के लिए सोमवार को सुप्रीम कोर्ट गई। कंपनी ने कोर्ट को कहा कि वह पेमेंट करेगी और उसके खिलाफ कोई कार्रवाई ना हो।"


वोडाफोन आइडिया पर कुल 50,000 करोड़ रुपए बकाया है। अक्टूबर के अपने एक फैसले में सुप्रीम कोर्ट ने 23 जनवरी तक कंपनियों को बकाया AGR चुकाने को कहा था। सोमवार सुबह भारती एयरटेल ने भी 10,000 करोड़ रुपए जुटाए हैं। साथ ही बाकी रकम 17 मार्च तक चुकाने का वादा किया है।


भारती एयरटेल ने दूरसंचार विभाग को लिखे लेटर में कहा है, "हम सेल्फ असेसमेंट कर रहे हैं और बकाया पेमेंट सुप्रीम कोर्ट की अगली सुनवाई से पहले कर देंगे।"


सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को भारती एयरटेल, वोडाफोन आइडिया के साथ-साथ दूरसंचार विभाग के अधिकारियों को भी बकाया पेमेंट पर फटकार लगाई थी। दूरसंचार विभाग और टेलीकॉम कंपनियों के बीत 14 साल तक चले मुकदमे के बाद सुप्रीम कोर्ट ने टेलीकॉम कंपनियों के खिलाफ फैसला सुनाया है। दुरसंचार विभाग के कैलकुलेशन के मुताबिक, भारती एयरटेल को 35,586 करोड़ रुपए चुकाना है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।