Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

बढ़ती प्रतिस्पर्धा से खास असर नहीं: डेन नेटवर्क्स

प्रकाशित Mon, 09, 2018 पर 14:10  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

आज नो योर कंपनी में हमारे रडार पर है डेन नेटवर्क्स। दरअसल जियो ने गीगा फाइबर लॉन्च का एलान किया है। गीगा फाइबर के जरिए जियो ब्रॉडबैंड सेवा की शुरुआत करने जा रही है। देश के 1,100 शहरों से गीगा फाइबर की शुरुआत होगी। 15 अगस्त से गीगा फाइबर के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू होगा।


डेन नेटवर्क्स के पास करीब 90 फीसदी फाइबर नेटवर्क है। कंपनी के दिल्ली में 2 लाख ब्रॉडबैंड सब्सक्राइबर हैं। दिल्ली समेत 10 अन्य शहरों में कंपनी सेवाएं देती हैं। कंपनी के पास 1.15 करोड़ डिजिटल सब्सक्राइबर हैं। आईडीएफसी का कहना है कि जियो गीगा फाइबर से ब्रॉडबैंड प्राइसिंग पर असर संभव है। मौजूदा ब्रॉडबैंड कंपनियों की मार्जिन पर असर देखने को मिल सकता है।


वित्त वर्ष 2018 में डेन नेटवर्क्स की आय 11 फीसदी बढ़कर 1,285 करोड़ रुपये रही थी, जबकि एबिटडा 56 फीसदी बढ़कर 278 करोड़ रुपये रहा था। वित्त वर्ष 2018 में डेन नेटवर्क्स का मार्जिन 15.5 फीसदी से बढ़कर 21.7 फीसदी रहा था। वित्त वर्ष 2018 में डेन नेटवर्क्स का घाटा 187.8 करोड़ रुपये से घटकर 17.1 करोड़ रुपये रहा।


सीएनबीसी-आवाज़ से बातचीत में डेन नेटवर्क्स के सीईओ, एस एन शर्मा ने कहा कि जियो के ब्रॉडबैंड सर्विस में आने से साफ जाहिर है कि इस सेगमेंट में कारोबार की अपार संभावनाएं हैं। साथ ही जियो के ब्राडबैंड सर्विस में कदम रखने से इस सेगमेंट की ओर से निवेशकों का ध्यान भी आकर्षित होगा। ब्राडबैंड की लोगों तक पहुंच भी बढ़ेगी और कंज्यूमर को भी इसका फायदा मिलेगा।


एस एन शर्मा के मुताबिक जियो के ब्रॉडबैंड सर्विस शुरू करने से डेन नेटवर्क्स के कारोबार पर ज्यादा असर नहीं होगा। केबल टीवी से डिजिटल की ओर जाने के समय भी कारोबार पर असर होने की आशंका जताई गई थी, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। बढ़ती प्रतिस्पर्धा के बीच बेहतर सेवा देकर कारोबार को मजबूत बनाने पर फोकस किया जाएगा। आने वाले दिनों में ब्रॉडबैंड सर्विस में कंसोलिडेशन को लेकर अभी से किसी भी तरह की टिप्पणी करना जल्दबाजी होगी।