Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट्स विकसित होने से होगा कंपनी को फायदाः NHPC

ग्राहकों को सस्ती और चौबीसो घंटे बिजली प्रदान करने के लिए कंपनी हाइड्रो पावर की दिशा में काम कर रही है।
अपडेटेड Oct 09, 2019 पर 14:44  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नो योर कंपनी में रडार पर NHPC है। खबरों के अनुसार NHPC ने लैंको का प्रोजेक्ट खरीदा है। उसने तीस्ता हाइड्रो पावर को खरीद लिया है। कंपनी को तीस्ता प्रोजेक्ट के लिए 4500 करोड़ रुपये का लोन मिलेगा। इस प्रोजेक्ट के लिए पीएफसी, आरईसी से लोन मिलेगा।


यह भी खबर है कि कंपनी 10 प्रोजेक्ट में विनिवेश करेगी। इसके अलावा बोर्ड ने कंपनी को 2500 करोड़ रुपये कर्ज जुटाने की मंजूरी दी। दूसरी तरफ कंपनी ने सबंसिरी प्रोजेक्ट के लिए सरकार से करार किया है। यह प्रोजेक्ट 3.5 साल में पूरा होगा।


NHPC के CMD बलराज जोशी ने सीएनबीसी-आवाज़ से बातचीत करते हुए कहा कि निप्को को टेकओवर करने से कंपनी को ज्यादा दिक्कत नहीं हैं क्योंकि निप्को का कुल नेटवर्थ 6000 करोड़ रुपये का है कंपनी के लिए कोई बहुत बड़ी रकम नहीं है। इसके साथ ही इन्होंने यह भी कहा कि यदि सरकार के फैसले के बाद कंपनी निप्को को टेक ओवर करती है तो कंपनी का मुनाफा प्रभावित होगा।


बलराज जोशी ने बताया कि आनेवाले दशक में कंपनी के पास 1 लाख 17 हजार करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट पाइप लाइन में हैं। जोशी ने कहा कि सरकार का फिलहाल एनएचपीसी, एनटीपीसी और एसजेवीएन इन तीन सरकारी कंपनियों के आपस में मेगा मर्जर किये जाने की फिलहाल कोई संभावना नहीं है। इसके अलावा ग्राहकों को सस्ती और चौबीसो घंटे बिजली प्रदान करने के लिए कंपनी हाइड्रो पावर की दिशा में काम कर रही है। वैसे भी हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट्स के विकसित होने से कंपनी को फायदा होगा और कंपनी ग्राहकों को चौबीसो घंटे बिजली उपलब्ध कराने का प्रयास करेगी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।