Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार खबरें

कंपनी का लक्ष्य 20% ग्रोथ और 15% एबिटडाः केपीआईटी

कंपनी पिछले दो सालों से 30 फीसदी ग्रोथ दिखा रही है फिर भी मैनेजमेंट 20 फीसदी ग्रोथ से संतुष्ट है।
अपडेटेड Apr 22, 2019 पर 14:29  |  स्रोत : CNBC-Awaaz

नो योर कंपनी में आज रडार पर केपीआईटी टेक्नोलॉजीज है। लिस्टिंग के बाद कंपनी के शेयर में तेजी आई है। केपीआईटी इंजीनियरिंग का दो कंपनियों में बंटवारा हुआ है। जिसमें से आईटी कारोबार बिड़ला सॉफ्ट के नाम से लिस्ट है। जबकि इंजीनियरिंग बिजनेस आज लिस्ट हुआ है। कंपनी की पूरी आय ऑटो सेक्टर से आती है।


कंपनी का शेयर अनुमान के मुताबिक 104 रुपये प्रति शेयर पर लिस्ट हुआ। शेयर अभी ट्रेड-टू-ट्रेड में है। प्रोफिसिएंट फिनस्टॉक के किशोर पाटिल ने ओपन ऑफर का एलान किया है। कंपनी ने 66.50 रुपये प्रति शेयर पर 26 फीसदी हिस्से के लिए ओपन ऑफर लाया गया है। हालांकि ओपन ऑफर की कीमत शेयर के फेयर वैल्यु से काफी कम है। इसलिए 66.50 रुपये प्रति शेयर पर ओपन ऑफर का फेल होना तय लग रहा है। गौरतलब है कि कंपनी में प्रोमोटर  की हिस्सेदारी 41.6 फीसदी है।


सीएनबीसी-आवाज़ के साथ बात करते हुए केपीआईटी टेक्नोलॉजीज के सीएफओ विनीत तेरेदेसाई ने कहा कि फिलहाल उनका फोकस ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री पर है। आज भी ऑटोमोटिव स्पेस से कंपनी का 80 फीसदी कारोबार होता है और बाकी के 20 फीसदी कारोबार कमर्शियल व्हीकल और अन्य सेगमेंट से होता है। विनीत तेरेदेसाई ने आगे बताया कि ऑटोमोबाइल क्षेत्र में कमजोरी के कारण फिलहाल कंपनी के लिए कोई चिंता की बात नहीं है। कंपनी पिछले दो सालों से 30 फीसदी ग्रोथ दिखा रही है फिर भी हम 20 फीसदी की ग्रोथ बनाये रखने के प्रति आश्वस्त हैं और एबिटडा 15 फीसदी बनाये रखना हमारा लक्ष्य है।