Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

Corona Effect: विमानों के इंजन बनाने वाली इंग्लैंड की कंपनी ने हजारों लोगों को काम से निकाला

विमानों के इंजन बनाने वाली इंग्लैंड की रोल्स रॉइस कंपनी ने कारोबार में हुए नुकसान का हवाला देते हुए करीब 9000 कर्मचारियों को काम से निकालने का निर्णय लिया।
अपडेटेड May 22, 2020 पर 09:09  |  स्रोत : Moneycontrol.com

इंग्लैड की हवाई जहाजों के इंजन बनाने वाली कंपनी रोल्स रॉइस ने करीब 9000 कर्मचारियों को काम से निकालने का निर्णय लिया है। कोरोना संक्रमण के कारण करीब विश्व भर में लॉकाडाउन लागू किया है गया है जिसकी वजह से सभी प्रकार के उद्दोग धंधे ठप पड़े हैं। वहीं सभी प्रकार के यातायात के साथ ही विमानों की फ्लाइट भी बंद हैं जिसके चलते विमानों के इंजन बनाने वाली इंग्लैंड की रोल्स रॉइस कंपनी ने कारोबार में हुए नुकसान का हवाला देते हुए करीब 9000 कर्मचारियों को काम से निकालने का निर्णय लिया।


रोल्ड रॉइस ये कंपनी बोईंग-787 और एयरबस-350 विमानों के इंजन बनाती है। विमान सेवाएं बंद होने के कारण कंपनी का बड़ा आर्थिक नुकसान हुआ है जिसकी वजह से कंपनी ने 9000 कर्मचारियों को निकाला है और इसके साथ ही कंपनी प्रोजेक्ट्स की क्षमता भी कम करने का विचार कर रही है। रोल्स रॉइस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी वॉरेन ईस्ट ने कहा कि कंपनी ने खर्च कम करने के कारण कर्मचारियों की संख्या कम करने का निर्णय लिया है। उन्होंने आगे कहा कि 1987 में कंपनी का निजीकरण हुआ था उसके बाद दुर्भाग्यवश ये नौकरियों में अब तक की सबसे बड़ी कटौती साबित हुई है।


महाराष्ट्र टाइम्स के अनुसार रोल्स रॉइस के विश्व भर में 52000 कर्मचारी हैं। जर्मनी, सिंगापुर सहित कुछ प्रमुख देशों में कंपनी के 16 से 17 प्रोजेक्ट्स हैं। कंपनी का वार्षिक टर्नओवर 15 अरब पाउंड के आस-पास है। कोरोना के कारण हुए नुकसान की भरपाई करने के लिए कंपनी को प्रति वर्ष कम से कम 1.3 अरब पाउंड्स की बचत करनी होगी और 9000 लोगों को निकालने से कंपनी को 700 मिलियन पाउंड्स की बचत होगी।


कोरोना के कारण इंग्लैंड में हजारों लोगों ने अपनी जानें गंवाई है उसके बाद 9000 लोगों की नौकरी जाना यूरोप में कोरोना के कारण नौकरी गंवाने वालों की सबसे बड़ी संख्या है। हालांकि इंग्लैंड की सरकार ने नौकरी गंवाने वालों को आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है जिसका फायदा कंपनी के 4 हजार कर्मचारियों को होने वाला है। वहीं इस खबर से कंपनी के शेयरों में करीब 62 प्रतिशत गिरावट देखने को मिली है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।