Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

Covid-19 Impact: टाटा ग्रुप के इतिहास में पहली बार कटी CEOs और MDs की सैलरी

कर्मचारियों को मौजूदा संकट से बचाने के लिए टाटा ग्रुप बड़े अधिकारियों की सैलरी में 20% तक कटौती कर रहा है
अपडेटेड May 26, 2020 पर 08:41  |  स्रोत : Moneycontrol.com

टाटा ग्रुप के इतिहास में पहली बार टाटा संस के चेयरमैन और ग्रुप की दूसरी सभी कंपनियों के CEO अपनी सैलरी में करीब 20 फीसदी का कट लेने वाले हैं। मौजूदा हालात में ग्रुप कॉस्ट कटिंग के लिए अपने बड़े अधिकारियों की सैलरी काट रहा है। इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले की जानकारी रखने वालों का कहना है कि बड़े अधिकारियों की सैलरी काटने का मकसद संस्थान और कर्मचारियों को प्रोत्साहित करना और कारोबार को मजबूत रखना है।


टाटा ग्रुप की फ्लैगशिप कंपनी TCS ने सबसे पहले अपने CEO राजेश गोपीनाथन की सैलरी कट का ऐलान किया था। इंडियन होटल्स भी अपने सीनियर अधिकारियों को कह चुकी है कि इस तिमाही में वह अपनी सैलरी का कुछ हिस्सा छोड़े ताकि कंपनी की मदद हो सके।


टाटा स्टील, टाटा मोटर्स, टाटा पावर, ट्रेंट, टाटा इंटरनेशनल, टाटा कैपिटल और वोल्टास सहित दूसरी सभी कंपनियों के CEOs और MDs भी अपनी सैलरी में कट लेंगे। इस मामले की जानकारी रखने वाले अधिकारियों का कहना है कि यह कटौती खासतौर पर मौजूदा साल के बोनस में किया जा रहा है।


इकोनॉमिक टाइम्स के मुताबिक, एक अधिकारी ने नाम जाहिर ना करने की शर्त पर बताया, "ग्रुप के इतिहास में कभी भी इतने सख्त कदम नहीं उठाए गए थे। कारोबार को बचाने के लिए ये कदम उठाए जा रहे हैं।" उन्होंने कहा, "कंपनी की लीडरशिप में भरोसा बनाए रखने के लिए हम हर मुमकिन कदम उठाएंगे। इस ग्रुप का कल्चर रहा है कि जितना मुमकिन हो हम अपने कर्मचारियों को सुरक्षित रखते हैं।" 


टाटा ग्रुप की टॉप 15 कंपनियों के CEO का पैकेज फिस्कल ईयर 2018 के मुकाबले 2019 में 11 फीसदी बढ़ा था। जबकि फिस्कल ईयर 2017 के मुकाबले 2018 में यह 14 फीसदी बढ़ा था। TCS को छोड़कर अभी तक किसी भी कंपनी ने फिस्कल ईयर 2020 के नतीजे जारी नहीं किए हैं।


टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन का टोटल पैकेज फिस्कल ईयर 2019 में 65.52 करोड़ रुपए का है। उसमें 54 करोड़ रुपए टाटा संस के प्रॉफिट का कमीशन है। फिस्कल ईयर 2018 के मुकाबले 2019 में चंद्रशेखरन की सैलरी 19 फीसदी बढ़ी थी।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें