Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

Daily Basket ने BigBasket पर लगाया दबंगई का आरोप, जानिए क्या है पूरा मामला

बिगबॉस्केट ने कोयंबटूर स्थिति ग्रोसरी स्टार्टअप डेलीबास्केट को ट्रेड मार्क उल्लंघन का आरोप लगाते हुए एक नोटिस भेजा है
अपडेटेड Feb 23, 2021 पर 15:43  |  स्रोत : Moneycontrol.com

बिगबास्केट (BigBasket) के cease and desist (बंद करो और निकल जाओ) लेटर का जवाब देते हुए कोयंबटूर स्थित ग्रोसरी स्टार्टअप डेलीबास्केट (DailyBasket) ने कहा है कि यह नोटिस कार्पोरेट दबंगई का एक उदाहरण है। जिससे एक नई उभरती कंपनी को दबाया जा सके और प्रतिस्पर्धी को कारोबार में आने से रोका जा सके। बता दें कि अलीबाबा के निवेश वाली बिगबॉस्केट ने कोयंबटूर स्थिति ग्रोसरी स्टार्टअप डेलीबास्केट को ट्रेड मार्क उल्लंघन का आरोप लगाते हुए एक नोटिस भेजा है। जिसमें स्टार्टअप के नाम में बास्केट शब्द के उपयोग पर आपत्ति उठाई गई है।


इस नोटिस के मिलने के कुछ दिनों बाद ही कोयंबटूर की यह स्टार्टअप (डेलीबास्केट) ने एक नई वेबसाइट bbisabully.com (बिग बास्केट) बनाई है। जिसमें कहा गया है कि बिगबास्केट अपने cease and desist हेडर वाले लेटर के जरिए डेलीबास्केट.कॉम (dailybasket.com) के साथ दबंगई कर रहा है। अपनी इस इस बेवसाइट पर डेलीबास्केट ने बिगबास्केट पर आरोप लगाते हुए कहा है कि बिगबास्केट डेलीबास्केट को डोमेन में dailybasket.com को इस्तेमाल करने की रोकने मांग कर रहा है। इसके अलावा उसको अपने मोबाइल ऐप का बंद करने, कारोबार को बंद करने, dailybasket.com डोमेन में ट्रांसफर करने और 2 लाख रुपये की लीगल फीस चुकाने जबरदस्ती दबाव बना रहा है। इसमें आगे कहा गया है कि उसको बास्केट शब्द सिमलर डोमने का इस्तेमाल करने के लिए रोका जा रहा है।


इन आरोपों के साथ दोनों बेवसाइट का तुलना, और दोनों कंपनियों के ऐप तुलना करके जानकारी दी गई । ताकि दोनों में अंतर किया जा सके। डेलीबास्केट ने ये भी कहा है कि वो बिग बास्केट के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए तैयार है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।