Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

DHFL के रेज्योलूशन प्लान को लगा झटका, जानिए क्या है मुश्किल?

DHFL की खस्ताहालत देखते हुए डेट रीपेमेंट कलेक्शन एजेंट्स ने कंपनी का साथ छोड़ दिया है
अपडेटेड Nov 19, 2019 पर 10:06  |  स्रोत : Moneycontrol.com

दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (DHFL) की डेट रिकवरी प्रक्रिया को झटका लग सकता है। मिंट के मुताबिक, इस मामले की जानकारी रखने वाले दो लोगों ने बताया है कि DHFL की खस्ताहालत देखते हुए डेट रीपेमेंट कलेक्शन एजेंट्स ने कंपनी का साथ छोड़ दिया है।


बैंक उम्मीद कर रहे थे कि DHFL के रेज्योलूशन प्लान के तहत 38,342 करोड़ रुपए का लोन रिकवर हो सकता है। नाम जाहिर ना करने की शर्त पर एक सूत्र ने बताया कि बैंक RBI के दिशा निर्देश मानते हुए DHFL के संदिग्ध लेनदेन की जानकारी दे रहे हैं। इसके साथ ही DHFL को रेड-फ्लैग्ड अकाउंट मान लिया गया है।


इस मामले की जानकारी रखने वाले एक शख्स ने बताया कि RBI के डाटाबेस Central Repository of Information on Large Credits (CRILC) में DHFL की ये जनकारियां अपडेट कर दी गई हैं। DHFL को लोन देने वाले बैंक जल्द ही बैठक करके इस मामले में चर्चा करेंगे।


एक सूत्र ने बताया कि रेड फ्लैगिंग के जरिए किसी फर्जीवाड़ा की जानकारी दी जाती है। हालांकि अभी इस मामले में KPMG की फॉरेंसिक रिपोर्ट नहीं आई है। इस शख्स ने यह भी बताया कि यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के कंसोर्शियम ने DHFL के लोन को NPA में डाल दिया है। DHFL को जुलाई में पेमेंट करना था लेकिन कंपनी पेमेंट नहीं कर पाई।
 
यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के चीफ एग्जिक्यूटिव राजकिरण राय जी ने पिछले हफ्ते कहा कि बैंक पहले ही DHFL के लोन के लिए 15 फीसदी फंड मुहैया कर चुका है। राय ने कहा, "DHFL को हमने 2000 करोड़ रुपए दिए हैं और अब हम इसके लिए पर्याप्त प्रोविजन कर रहे हैं।"

सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।