Moneycontrol » समाचार » कंपनी समाचार

इकबाल मिर्ची मामला: ED ने DHFL के प्रमोटर कपिल वाधवन को गिरफ्तार किया

DHFL के प्रमोटर कपिल वाधवन के खिलाफ पहले ही लुकआउट नोटिस जारी है ताकि वह देश छोड़कर भाग ना सके
अपडेटेड Jan 30, 2020 पर 11:46  |  स्रोत : Moneycontrol.com

एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट (ED) ने 27 जनवरी को DHFL के प्रमोटर कपिल वाधवन (Kapil Wadhawan) को गिरफ्तार किया। वाधवन को इकबाल मिर्ची (Iqbal Mirchi) मामले से कनेक्शन होने पर गिरफ्तार किया गया है।  


एजेंसी ड्रग स्मगलिंग करने वाले इकबाल मेनन ऊर्फ इकबाल मिर्ची से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जांच कर रही है। इकबाल मिर्ची की मौत 14 अगस्त 2013 में हो गई है। लेकिन मनी-लॉन्ड्रिंग की मामले की जांच में मिर्ची से जुड़े लोगों की धरपकड़ तेज हो गई है।


कपिल वाधवन को ED आज शाम ही स्पेशल कोर्ट के सामने पेश किया गया है। लाइव मिंट के मुताबिक, इस मामले की जांच कर रहे एक अधिकारी ने कहा, "वाधवन को पूछताछ के लिए गिरफ्तार किया गया है। ED ने स्पेशल जांच में पूछताछ के लिए वाधवन को गिरफ्तार किया है।" ED ने स्पेशल कोर्ट से वाधवन की 7 दिनों की कस्टडी मांगी है।


DHFL के प्रमोटर कपिल वाधवन के खिलाफ पहले ही लुकआउट नोटिस जारी है ताकि वह देश छोड़कर भाग ना सके।


क्या है पूरा मामला?


यह पूरा मामला सनब्लिंक रियल एस्टेट प्राइवेट लिमिटेड (unblink Real Estate Private Limited) को दिए 2186 करोड़ रुपए के लोन से जुड़ा है। कंपनी इस बात की जांच कर रही है कि इस पैसे का कोई लेनादेना गैंगस्टर इकबाल मिर्ची के साथ था या नहीं।


यह मामला तब उजागर हुआ जब ED ने DHFL के हेडक्वार्टर सहित 8 जगहों पर छापे मारे। ED को शक है कि इस नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनी DHFL के लिंक इकबाल मिर्ची से जुड़े हुए हैं। इन प्रॉपर्टीज का इस्तेमाल मनी-लॉन्ड्रिंग के लिए किया गया था। ये सारी प्रॉपर्टी 2010-2011 में DHFL से लोन लेकर खरीदा गया था। जबकि जांच में पता चला है कि जिस तारीख का लोन बताया गया है उस दिन सनब्लिंक रियल्टी ने कोई लोन नहीं लिया है।


स्टॉक एक्सचेंज को दी गई जानकारी में कंपनी ने बताया है, "2186 करोड़ रुपए की रकम में प्रिंसिपल के साथ इंटरेस्ट जुड़ा हुआ है।" DHFL फिलहाल इनसॉल्वेंसी एंड बैंकरप्सी कोड (IBC) में रेज्योलूशन के लिए गई है। ED ने इकबाल मिर्ची, उसके बेटे आसिफ मेनन और जुनैद मेनन, हाजरा मेनन की पत्नी, सनब्लिंक रियल एस्टेट के डायरेक्टर सन्नी भटीजा, ब्रोकर रंजीत सिंह बिंद्रा और सनब्लिंक के डायरेक्टर धीरज वाधवन और DHFL के एक नॉन-एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर सहित 16 लोगों के खिलाफ  12,000 पन्नों की चार्जशीट फाइल की है।


सोशल मीडिया अपडेट्स के लिए हमें Facebook (https://www.facebook.com/moneycontrolhindi/) और Twitter (https://twitter.com/MoneycontrolH) पर फॉलो करें।